करंट की चपेट में आए किसान की मौत, डेढ़ घंटे जाम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, March 31, 2022

करंट की चपेट में आए किसान की मौत, डेढ़ घंटे जाम

बबेरू कोतवाली क्षेत्र के मुरवल गांव में हुई घटना, परिवार में मातम 

बिजली विभाग के खिलाफ रपट दर्ज, मुआवजे का आश्वासन 

बांदा, के एस दुबे । फसल की थ्रेसरिंग करने के बाद धूप से बचने के लिए ट्रैक्टर चालक पेड़ के नीचे बैठ गया। वहीं से गुजरी हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ जाने से उसकी मौत हो गई। नाराज परिजनों और ग्रामीणों ने बांदा बबेरू मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया और जमकर नारेबाजी की। बाद में उप जिलाधिकारी के मुआवजे और बिजली विभाग पर कार्रवाई के आश्वासन के बाद जाम खुल सका। 

जाम लगाए परिजनों और ग्रामीणों को समझाती पुलिस

मिली जानकारी के मुताबिक कोतवाली बबेरू क्षेत्र के मुरवल गांव निवासी प्रीतम वर्मा (30) पुत्र शिवमंगल ट्रैक्टर चलाता था। वह गुरुवार की सुबह एक महाविद्यालय के समीप स्थित खेत में फसल की थ्रेसरिंग करने गया था। थ्रेसरिंग करने के बाद तेज धूप से बचने के लिए वह बबूल के पेड़ के नीचे बैठ गया। इसी बीच ऊपर से गुजरी हाईटेंशन लाइन के झूलते तारों से करंट की चपेट में आ गया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। ग्रामीणों ने बिजली विभाग को सूचना देकर आपूर्ति बंद कराई, लेकिन तब तक प्रीतम दम तोड़ चुका था। ग्रामीणों का कहना है कि झूलते हुए तारों को ठीक करने के लिए बिजली विभाग के अधिकारियों को कई बार सूचना दी गई, लेकिन अधिकारियों ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया। बिजली विभाग की लापरवाही से यह हादसा हुआ है। घटना से नाराज परिजनों और ग्रामीणों ने बिजली विभाग पर कार्रवाई और मुआवजे की मांग को लेकर बांदा-बबेरू मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया। जाम करीब डेढ़ घंटे लगा रहा। एसडीएम दिनेश कुमार, सीओ सदर सत्यप्रकाश शर्मा, कोतवाली प्रभारी बांके बिहारी समेत पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची और परिजनों को समझाया और बिजली विभाग पर कार्रवाई और मुआवजे का आश्वासन दिया, तब कहीं जाकर डेढ़ घंटे बाद जाम खुल सका। मृतक की पत्नी कुसुम कली और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पिता की तहरीर पर बिजली विभाग के खिलाफ धारा 304 आईपीसी के तहत रपट दर्ज कर ली गई है। परिवारीजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages