बीएसएनएल कर्मियों ने शुरू की दो दिवसीय हड़ताल - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, March 28, 2022

बीएसएनएल कर्मियों ने शुरू की दो दिवसीय हड़ताल

केंद्रीय ट्रेड यूनियन व बीएसएनएल कर्मचारियों की उठाई मांगे 

फतेहपुर, शमशाद खान । केंद्रीय ट्रेड यूनियन व बीएसएनएल कर्मचारियों की मांगों को लेकर सोमवार को बीएसएनएल इम्प्लाइज यूनियन के बैनर तले कर्मचारियों ने दूर संचार विभाग के प्रांगण में दो दिवसीय हड़ताल शुरू कर दी। हड़ताल के दौरान कर्मचारियों ने केंद्र सरकार विरोधी जमकर नारेबाजी की। कर्मचारियों का कहना रहा कि उनकी मांगे काफी समय से लंबित हैं लेकिन सरकार द्वारा उनकी एक नहीं सुनी जा रही है। 

दूर संचार विभाग के प्रांगण में हड़ताल के दौरान नारेबाजी करते कर्मी।

हड़ताल की अध्यक्षता कर रहे सचिव बाबूलाल पाल ने कहा कि बीएसएनएल कर्मियों ने मांगों को लेकर दो दिवसीय हड़ताल का निर्णय लिया है। कल (आज) भी प्रांगण में विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। उन्होने केंद्रीय ट्रेड यूनियन की मांगों को गिनाते हुए कहा कि लेवर कोड्स व ईडीएसए रद्द किया जाए, कृषि कानूनों के निरस्त होने के बाद संयुक्त किसान मोर्चा के छह सूत्रीय मांग पत्र को स्वीकार किया जाए, निजीकरण किसी भी रूप में नहीं होना चाहिए व साथ ही एनएमपी रद्द की जाए, गैर आयकर परिवारों को 7500 प्रतिमाह की खाद्य और आय सहायता की जाए, मनरेगा के लिए आवंटन में वृद्धि व शहरी क्षेत्रों के लिए रोजगार योजना का विस्तार किया जाए। इसके अलावा बीएसएनएल कर्मचारियें की मांगे गिनाते हुए कहा कि उपकरण खरीद के मामले में बीएसएनएल के साथ भेदभाव बंद किय जाए। 4 जी सेवा फौरन शुरू करने के साथ ही 5 जी समय पर आरंभ कराया जाए। राष्ट्रीय मुद्रीकरण पाइपलाइन रद्द की जाए। बीएसएनएल के मोबाइल टावरों और ओप्टिक फाइबर का मुद्रीकरण बंद किया जाए। कर्मचारियों के लिए वेतन संशोधन व पेंशन संशोधन लागू किया जाए व छटनी किए गए ठेका मजदूरों को पुनः बहाल करके उनके वेतन बकायों का तत्काल भुगतान किया जाए। इस मौके पर लल्लू प्रसाद, प्रवीण कुमार, शिवचंद्र, प्रमोद कुमार, शैलेंद्र कुमार भी मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages