कैबिनेट मंत्री बनाने पर पैतृक गांव में उत्साह - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, March 25, 2022

कैबिनेट मंत्री बनाने पर पैतृक गांव में उत्साह

मुख्यालय में समर्थकों ने लड्डू बांट मनाया जश्न

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। इंजीनियर की नौकरी छोड़ राजनीति में आए अपना दल (एस) के कार्यकारी अध्यक्ष एमएलसी आशीष पटेल भाजपा गठबंधन से कैबिनेट मंत्री बनाए गए है। 

कबीना मंत्री श्री पटेल मूल रूप से चित्रकूट के हनुमानगंज गांव के निवासी है। जल निगम में इंजीनियर थे। कानपुर में तैनाती के दौरान 2014 में उनकी शादी अपना दल अध्यक्ष सोनेलाल पटेल की बेटी अनुप्रिया पटेल के साथ हुई। प्रखर वक्ता और पार्टी में सक्रिय भूमिका के चलते उन्हें सोनेलाल पटेल के उत्तराधिकारी के रूप में कार्यकर्ता देखते थे। 2012 में अनुप्रिया पटेल वाराणसी जिले के रोहनिया सीट से चुनाव मैदान में थीं। पति आशीष पटेल के कुशल रणनीति का परिणाम रहा कि सपा की लहर के बावजूद अनुप्रिया ने बड़े अंतर से इस सीट पर जीत दर्ज किया। 2014 में यूपीए सरकार को सत्ता से बेदखल करने के लिए भाजपा मोदी की अगुवाई में रणनीति बना

जश्न मनाते समर्थक।

रही थी। अपना दल का भाजपा से गठबंधन हो गया। इस गठबंधन में अपना दल को दो सीटें मिलीं। ये दो सीटें मिर्जापुर और प्रतापगढ़ संसदीय सीट हैं। कैबिनेट मंत्री आशीष पटेल राष्टीय अध्यक्ष बनने के सिर्फ छह महीने के अंदर पहली बार 2017 के विधानसभा चुनाव मे पार्टी उतरी। इस नई पार्टी को भाजपा के साथ गठबंधन में मिली 12 सीटों में से 9 सीटों पर सफलता प्राप्त हुई। विधानसभा मे पार्टी के विधायकों की संख्या 0 से 9 विधायको तक पहुंची। अपना दल की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल वर्तमान में मोदी कैबिनेट में वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री हैं। योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल में भी भाजपा के साथ मिलकर अपना दल (एस) ने चुनाव लड़ा। इस बार कुल 18 सीटे मिली। जिसमे 12 सीटें जीतकर क्षेत्रीय पार्टी का भी दर्जा मिल गया है। चित्रकूट जिले की दो विधानसभाओं में से एक मानिकपुर सीट इस बार अपना दल के खाते में गई। पैतृक विधानसभा में पहली बार एमएलसी आशीष पटेल ने अविनाशचन्द्र द्विवेदी को चुनाव लड़ाया और वह विजयी हुए। अब आशीष पटेल को बुन्देलखण्ड कोटे से कैबिनेट में जगह मिली है। उन्होंने शुक्रवार को लखनऊ में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली है। कैबिनेट मंत्री बनाए जाने पर उनके पैतृक गांव हनुमानगंज और मुख्यालय के एलआईसी तिराहे में समर्थकों ने जमकर जश्न मनाया। ढोल नगाड़े के साथ लड्डू बांटे और पटाखे दागकर खुशी का इजहार किया है। इस मौके पर बुन्देली सेना के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह, प्रधान संघ के ब्लाक अध्यक्ष अरुण कुमार उर्फ मुन्ना सिंह, जानकी शरण गुप्ता, अतुल सिंह, बद्री सिंह, लाला श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages