बुंदेलखंड दिवस के रूप में मनाएंगे स्व. शंकर लाल मेहरोत्रा की जयंती - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, March 8, 2022

बुंदेलखंड दिवस के रूप में मनाएंगे स्व. शंकर लाल मेहरोत्रा की जयंती

प्रधानमंत्री को 26 वीं बार अपने खून से लिखेंगे खत 

खागा/फतेहपुर, शमशाद खान । बुंदेलखंड राज्य आंदोलन के जनक स्व. शंकर लाल मेहरोत्रा के जन्म दिवस नौ मार्च को बुंदेले अब बुंदेलखंड दिवस के रूप में मनाएंगे एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम रिकार्ड 26 वीं बार अपने खून से खत लिखकर बुंदेलखंड राज्य बनाने की मांग करेंगे।

प्रधानमंत्री को खून से लिखा पत्र दिखाते राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण पांडेय।

बुंदेलखंड राष्ट्र समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण पांडेय ने बताया कि फतेहपुर के अलावा महोबा, चित्रकूट, हमीरपुर, बांदा, जालौन व झांसी आदि जनपदों में भी बुंदेलखंड दिवस मनाया जाएगा। बुंदेले सार्वजनिक स्थल पर प्रधानमंत्री को अपने खून से खत लिखकर बुंदेलखंड को अलग राज्य का दर्जा देने की मांग करेंगे। बुंदेलखंड को भले ही अब तक अलग राज्य का दर्जा न मिल पाया हो लेकिन वह अपनी विशिष्ट भौगोलिक, ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और प्राकृतिक विरासतों के लिए देश में अलग पहचान रखता है। पिछले 65 साल से उत्तर प्रदेश व मध्य प्रदेश जैसे दो बड़े राज्यों के बीच पिस रहे बुंदेलखंड को अपनी राजनैतिक पहचान दिलाने के लिए स्व. शंकर लाल मेहरोत्रा ने सबसे ज्यादा संघर्ष किया। उन्होंने अलग राज्य आंदोलन को गति देने के लिए बुंदेलखंड मुक्ति मोर्चा बनाया और आंदोलन को राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचाया। इसलिए बुंदेलखंड राष्ट्र समिति उनके जन्म दिवस को बुंदेलखंड दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages