शुरू हुआ छह दिवसीय पल्स पोलियो अभियान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, March 20, 2022

शुरू हुआ छह दिवसीय पल्स पोलियो अभियान

पहले दिन 1020 बूथों में 90 हजार बच्चों को पिलाई गई पोलियो की दवा

सीएमओ बोले, पल्स पोलियो अभियान ने विकलांगता को हराया 

 बांदा, के एस दुबे । छह दिवसीय सघन पल्स पोलियो अभियान की रविवार से जनपद में शुरुआत हो गई। पहले दिन  1020 बूथों में शून्य से पांच साल के लगभग 90 हजार बच्चों को दो बूंद जिंदगी की पिलाई की गई। अभियान की शुरूआत जिला अस्पताल के पीपीसी सेंटर में जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने नवजात शिशुओं को दवा पिलाकर की। 

पीपीसी सेंटर में पोलियो की दवा पिलाने के बाद नवजात व अभिभावकों के साथ मौजूद डीएम अनुरोग पटेल, साथ में सीएमओ व अन्य स्वास्थ्य कर्मी



डीएम ने कहा कि वैसे तो भारत पोलियो मुक्त हो चुका है। लेकिन पड़ोसी देशों में पोलियो के खतरे को देखते हुए यहां भी अभियान चलाया जा रहा है। ताकि देश को विकलांगता जैसे अभिशाप से बचाया जा सके। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. अनिल कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि किसी दौर में मासूम बच्चे पोलियो जैसी बीमारी का शिकार होकर जीवन भर के लिए अपंग हो जाते थे, लेकिन अब ऐसे मामलों में काफी हद तक काबू पाया जा चुका है। आगे भी कोई बच्चा विकलांगता का शिकार न हो, इसके लिए अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने अभिभावकों से अपील की कि वह आगे बढ़कर अपने बच्चों को पोलियो की दवा अवश्य पिलाएं ताकि वह विकलांगता के अभिशाप से बचे रहे। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. संजय कुमार शैवाल ने बताया कि छह दिवसीय इस अभियान के पहले दिन बच्चों को बूथों में दवा पिलाई जाएगी। इसके बाद सोमवार से शुक्रवार तक विभाग की टीमें डोर टू डोर संपर्क कर शून्य से पांच साल के बच्चों को दवा पिलाएंगी। कोई भी बच्चा दवा पीने से वंचित नहीं रहेगा। जनपद में 620 टीमें लगाई गई हैं। 2.85 लाख बच्चों को दवा पिलाने का लक्ष्य निर्धारित है। मुख्य चिकित्साधीक्षक डा. एसएन मिश्रा व डा. सुनीता सिंह, डब्ल्यूएचओ एसएमओ डा. मीनाक्षी, राधा शर्मा, राम कुमार पाल सहित यूनिसेफ प्रतिनिधि व स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages