शिक्षक समाज के साथ अमर्यादित व्यवहार पर भड़के संगठन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, March 3, 2022

शिक्षक समाज के साथ अमर्यादित व्यवहार पर भड़के संगठन

डीएम को ज्ञापन सौंपकर आरोपी तहसीलदार व लेखपालों के विरूद्ध कार्रवाई की उठाई मांग  

फतेहपुर, शमशाद खान । विधानसभा चुनाव के दौरान शिक्षक समाज के साथ तहसीलदार व लेखपालों द्वारा किए गए अमर्यादित व्यवहार पर शिक्षक संगठना में रोष व्याप्त हो गया। गुरूवार को प्रधानाचार्य परिषद, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ व उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। जिसमें आरोपी तहसीलदार व लेखपालां के विरूद्ध कार्रवाई किए जाने की मांग की गई। 

डीएम को ज्ञापन देने के लिए कलेक्ट्रेट में खड़े शिक्षक संगठनों के पदाधिकारी।

प्रधानाचार्य परिषद के अध्यक्ष प्रभुदत्त दीक्षित, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष आलोक शुक्ला व उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह की संयुक्त अगुवाई में शिक्षकों का एक प्रतिनिधि मंडल कलेक्ट्रेट पहुंचा। जहां जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपकर बताया कि निर्वाचन एक राष्ट्रीय एवं प्रजातांत्रिक प्रक्रिया है। जिसमें हर चुनाव में प्रधानाचार्य परिषद एवं शिक्षक संघ निर्वाचन आयोग के निर्देशों के अनुरूप पूर्ण मनोयोग से अपने-अपने दायित्वों का निर्वहन करते हैं। बताया कि विधानसभा चुनाव की निर्वाचन सामग्री संकलन के समय प्रशिक्षण में प्रदत्त निर्देशों के विपरीत संकलनकर्ताओं ने अव्यवस्था पैदा की। रिटर्निंग आफीसर, सहायक रिटर्निंग आफीसर, तहसीलदार व सहकर्मियों ने पहली बार शिक्षक समाज के प्रति अमर्यादित व्यवहार किया। जिसका विरोध मतदान कर्मी व सेक्टर मजिस्ट्रेटों ने किया। बताया कि परिणामस्वरूप तहसीलदार व उनके अधीनस्थ लेखपालों ने सेक्टर मजिस्ट्रेट से मारपीट की। जो जनपद के लिए कलंक दिवस बन गया है। जिसकी वीडियो भी संगठन के पास उपलब्ध है। कहा कि घटना से संपूर्ण शिक्षक समाज आहत है। शिक्षकों में भारी रोष एवं क्षोभ व्याप्त है। स्थिति अत्यंत विस्फोटक एवं निंदनीय है। मांग किया कि तेईस फरवरी को घटित घटना का संज्ञान लेते हुए आरोपी तहसीलदार व लेखपालों के विरूद्ध कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए। इस मौके पर जितेंद्र कुमार चौधरी, पुष्पराज सिंह, विजय कुमार त्रिपाठी भी मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages