कक्ष निरीक्षक की ड्यूटी लगाए जाने से प्रधानाचार्यों में रोष - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, March 22, 2022

कक्ष निरीक्षक की ड्यूटी लगाए जाने से प्रधानाचार्यों में रोष

डीआईओएस के माध्यम से माध्यमिक शिक्षा परिषद के सचिव को भेजा ज्ञापन 

फतेहपुर, शमशाद खान । माध्यमिक शिक्षा परिषद ने इस बार बोर्ड परीक्षाओं में प्रधानाचार्यों की ड्यूटी कक्ष निरीक्षक के तौर पर लगाए जाने का फैसला लिया है। जिसका स्थानीय प्रधानाचार्यों ने विरोध दर्ज कराते हुए नाराजगी का इजहार किया। उत्तर प्रदेश माध्यमिक प्रधानाचार्य परिषद (वित्तविहीन गुट) के पदाधिकारियों ने डीआईओएस के माध्यम से माध्यमिक शिक्षा परिषद को पांच सूत्रीय ज्ञापन भेजकर तत्काल तैनाती का आदेश तत्काल प्रभाव से निरस्त किए जाने की मांग की। 

डीआईओएस को ज्ञापन सौंपते माध्यमिक प्रधानाचार्य परिषद के पदाधिकारी।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक प्रधानाचार्य परिषद (वित्तविहीन गुट) के जिलाध्यक्ष मणिशंकर मौर्य व शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष मुकेश श्रीवास्तव की अगुवाई में पदाधिकारी जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पहुंचे। जहां माध्यमिक शिक्षा परिषद के सचिव को संबोधित पांच सूत्रीय ज्ञापन डीआईओएस महेंद्र प्रताप सिंह को सौंपकर बताया कि परिषदीय परीक्षा में माध्यमिक शिक्षा परिषद ने वित्तविहीन मान्यता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाचार्यों को कक्ष निरीक्षक के रूप में तैनात किया है। जो प्रधानाचार्य पद की गरिमा के खिलाफ है। प्रधानाचार्यों की कक्ष निरीक्षक के रूप में तैनाती का आदेश तत्काल प्रभाव से निरस्त किया जाए। माध्यमिक विद्यालयों में आंतरिक गतिविधियों के साथ-साथ शासन द्वारा जारी समयबद्ध गतिविधियों का क्रियान्वयन भी विद्यालय स्तर पर सम्पन्न होता है। इसके लिए शिक्षकों की आवश्यकता पड़ती है। इसलिए वित्तविहीन मान्यता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों के पचास प्रतिशत शिक्षकों को परिषदीय परीक्षा में कक्ष निरीक्षक के रूप में तैनात किया जाए। माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को निकटतम परीक्षा केंद्रों में नियुक्त किया जाए। परिषदीय परीक्षा वर्ष 2019 व 2020 के कक्ष निरीक्षकों का पारिश्रमिक का भुगतान तत्काल किया जाए। परीक्षा वर्ष 2020 के मूल्यांकन का अवशेष पारिश्रमिक का तत्काल भुगतान कराया जाए। इस मौके पर प्रधानाचार्य परिषद के जिला महामंत्री रामपाल पाल, रजत सिंह, बद्री प्रसाद पाल, सुशील कुमार यादव, राधा देवी, ब्रज बिहारी, बृजेश कुमार, राजेंद्र कुमार, सुरेंद्र कुमार भी मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages