जीत का प्रमाण पत्र मिलने तक डटे रहेंगे कार्यकर्ता : शिवशंकर - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, March 9, 2022

जीत का प्रमाण पत्र मिलने तक डटे रहेंगे कार्यकर्ता : शिवशंकर

लोकतंत्र को बचाने के लिए रखी जाएगी ईवीएम पर निगाह

भाजपा को सता रहा हार का डर, अधिकारियों का कर रहे दुरूपयोग 

फतेहपुर, शमशाद खान । कल  उत्तर प्रदेश में होने वाली मतगणना में गड़बड़ी की आशंका को लेकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को दिशा-निर्देश दिए हैं। विजयी प्रत्याशियों को जीत का प्रमाण पत्र मिलने तक मतगणना स्थल पर कार्यकर्ता डटे रहेंगे। लोकतंत्र को बचाने के लिए सभी ईवीएम पर निगाह रखें, क्योंकि भारतीय जनता पार्टी को हार का डर सता रहा है और वह अधिकारियों का दुरूपयोग कर रही है। 

पत्रकारों से वार्ता करते सपा के मतगणना प्रभारी एवं पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री शिवशंकर पटेल।

यह बात बुधवार को समाजवादी पार्टी के मतगणना प्रभारी एवं पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री शिवशंकर पटेल ने बांदा-सागर रोड स्थित तपस्वी गेस्ट हाउस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। उन्होने कहा कि बीजेपी को विधानसभा चुनाव में जनता ने नकार दिया है। इसलिए उसे हार का डर सता रहा है। बीजेपी अपनी हार को जीत में बदलने के लिए हर हथकंडा अपना रही है। अधिकारियों का दुरूपयोग किया जा रहा है। जिसकी वजह से ही बनारस में ईवीएम मशीन बाहर आई जिसे एक गाड़ी में पकड़ा गया और दो भाग गईं। उन्होने यूपी चुनाव को लोकतंत्र की आखिरी लड़ाई बताया। राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के दिशा-निर्देशन में कल (आज) सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ता मतगणना स्थल के आस-पास डटे रहेंगे। जिससे मतगणना में किसी तरह की गड़बड़ी न हो। गड़बड़ी की आशंका पर कार्यकर्ता अपने नेताओं को सूचित करेंगे। लोकतंत्र को बचाने के लिए सभी कार्यकर्ता ईवीएम पर निगाह बनाए रहेंगे। उनका कहना रहा कि ईवीएम से छेड़छाड़ करने के आसार हैं। ईवीएम में खेल न कर पाने से भाजपा के लोग भड़भड़ा रहे हैं। भाजपा को इस चुनाव में जनता ने नकार दिया है। समाजवादी पार्टी पूर्ण बहुमत से यह चुनाव जीतकर सरकार बनाने की ओर अग्रसर है। उन्होने कहा कि मतगणना स्थल के अंदर एजेंट व कार्यकर्ता बाहर रहेंगे। जो न अन्याय करेंगे और न अन्याय होने देंगे। उन्होने कहा कि जब तक सपा के विजयी प्रत्याशी को जीत का प्रमाण पत्र न मिल जाए कोई भी कार्यकर्ता मतगणना स्थल से नहीं हटेगा। उन्होने आरोप लगाया कि जैसे महाभारत में चीरहरण हुआ था वैसे पंचायत चुनाव में भी हुआ। मताओं, बहनों की साड़ी छीनने का काम किया। सपा नेता स्वामी प्रसाद मोर्य की गाड़ी को तोड़ा गया। उन्होने कहा कि यदि कोई गड़बड़ी करता है तो प्रदेश कार्यालय द्वारा आदेश के बाद निपटा जाएगा। वार्ता के दौरान सपा के राज्यसभा सांसद एवं अयाह-शाह विधानसभा के प्रत्याशी विशंभर प्रसाद निषाद ने कहा कि सपा कार्यकर्ता जब प्रचार करने जाते थे तो पुलिस उन पर मुकदमा कायम करती थी। यह कार्रवाई भाजपा के इशारे पर हो रही थी। तमाम शिकायतें चुनाव आयोग से करने के बाद भी जिले के अफसरों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसलिए मतगणना निष्पक्ष हो यह संभव नहीं है। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता लगातार मतगणना स्थल में डटकर पहरा दे रहे हैं जिससे मतगणना में कोई गड़बड़ी न हो। इस मौके पर जिलाध्यक्ष विपिन सिंह यादव, सदर विधानसभा प्रत्याशी चंद्र प्रकाश लोधी, बिंदकी विधानसभा प्रत्याशी रामेश्वर दयाल दयालू, खागा विधानसभा प्रत्याशी रामतीर्थ परमहंस के अलावा ठा. सतीश राज सिंह, जगदीश उर्फ जालिम सिंह एडवोकेट, नफीस सिद्दीकी, राजकुमार मौर्या भी मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages