48 घंटे में रामफल हत्याकांड का खुलासा, चार गिरफ्तार - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, March 25, 2022

48 घंटे में रामफल हत्याकांड का खुलासा, चार गिरफ्तार

अभियुक्तों ने नशे की हालत में घटना को दिया था अंजाम 

पकड़े गए अभियुक्तों पर पहले से दर्ज हैं संगीन मुकदमें 

फतेहपुर, शमशाद खान । खागा कोतवाली क्षेत्र के ग्राम हरदों में खेतों की रखवाली कर रहे एक 70 वर्षीय वृद्ध की अज्ञात बदमाशों ने कुल्हाड़ी से काटकर निर्मम हत्या कर दी थी। इस घटना को गंभीरता से लेते हुए कोतवाली पुलिस ने महज 48 घंटे के भीतर हत्याकांड का खुलासा करते हुए इस घटना में लिप्त चार अभियुक्तों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। अभियुक्तों ने नशे की हालत में घटना को अंजाम दिया था। पकड़े गए अभियुक्तों पर पहले से ही कई संगीन मुकदमें दर्ज हैं। पुलिस ने चारों को जेल भेज दिया। 

पत्रकारों से वार्ता करते सीओ एवं पीछे पुलिस टीम के साथ खड़े अभियुक्त।

खागा कोतवाली परिसर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए क्षेत्राधिकारी ने बताया कि 22 मार्च की रात लगभग सवा दस बजे हरदों गांव में खेत की रखवाली कर रहे रामफल पुत्र गंगाविशुन 72 वर्ष की अज्ञात बदमाशों ने कुल्हाड़ी से हमला कर नृसंश हत्या कर दी थी और फरार हो गए थे। पुलिस ने शव को बरामद करते हुए अज्ञात हमलावरों के विरूद्ध मुकदमा पंजीकृत किया था। एसपी ने घटना के खुलासे के लिए खागा कोतवाली पुलिस को लगाया था। थाना खागा निरीक्षक जय प्रकाश शाही अपनी टीम के साथ लगातार अभियुक्तों की तलाश में लगे थे। मुखबिर की सूचना पर उन्होने चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए अभियुक्तों ने अपने नाम रवि सिंह पुत्र मेवालाल, गेंदालाल पुत्र फूल सिंह, शिवबाबू उर्फ सुनील उर्फ टूट्टी पुत्र शिवदास व अमरेश सिंह पुत्र ज्ञान सिंह निवासीगण ग्राम बाबा का पुरवा देवीनगर मजरे हरदो थाना खागा बताया। पुलिस टीम ने अभियुक्तों के पास से घटना में प्रयुक्त कुल्हाड़ी समेत अन्य सामान बरामद कर लिया है। अभियुक्तों ने हत्याकांड को स्वीकार करते हुए बताया कि वह लोग खेतों के पास बैठकर शराब पी रहे थे और नशे की हालत में ही कुल्हाड़ी से वृद्ध की हत्या कर दी थी। गिरफ्तारी करने वाली टीम में कोतवाल जय प्रकाश शाही, उपनिरीक्षक राजीव कुमार सिंह, उपनिरीक्षक प्रवीण कुमार यादव, उपनिरीक्षक अखिलेश कुमार यादव, हेड कांस्टेबल इन्द्रदेव तिवारी, कांस्टेबल अश्वनी कुमार, ऋषिरंजन मिश्रा, प्रदीप कुमार शामिल रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages