मौनी अमावस्या में उमड़े आस्थावान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, February 1, 2022

मौनी अमावस्या में उमड़े आस्थावान

कोरोना प्रतिबंध के बावजूद मंदाकिनी में डुबकी लगा कामदनाथ की लगाई परिक्रमा

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। धर्मनगरी में मौनी अमावस्या पर्व पर कोरोना गाइड लाइन को दरकिनार कर लाखों श्रद्धालुओं ने मंदाकिनी में आस्था की डुबकी लगाई। चित्रकूट मप्र क्षेत्र में मेले पर प्रतिबंध होने के बावजूद पैदल ही श्रद्धालुओं का रेला कामदनाथ भगवान की परिक्रमा करने पहुंचा। यह जरूर रहा कि कोरेना के चलते तीन साल पहले की मौनी अमावस्या के मुकाबले कम श्रद्धालु पहुंचे।

रामघाट में स्नान करते श्रद्धालु।

मौनी अमावस्या पर्व में कोरोना काल के बाद भी श्रद्धालुओं ने मंदाकिनी नदी में स्नान कर भगवान कामदनाथ के दर्शन कर कामदगिरी की परीक्रमा लगाई। मेला में एक स्थान पर अधिक भीड़ न हो इसके लिए यूपी व एमपी के प्रशासनिक अधिकारी सहित पुलिस बल तैनात रहा। कोराना काल के कारण पिछली बार की अपेक्षा इस बार अधिक श्रद्धालु नहीं आये। एमपी क्षेत्र में तो पूरी तरह से प्रतिबंध लगा रहा लेकिन इसका सिर्फ वाहनों के आवागमन में प्रभाव दिखा। मौनी अमावस्या पर्व पर शुभमुर्हुत पर श्रद्धालुओं ने सुबह मंदाकिनी नदी में स्नान कर पूजा पाठ किया। इसके बाद रामघाट स्थित मत्यगजेंद्र नाथ में जलाभिषेक कर भगवान कामदनाथ के दर्शन किया। पंच कोसीय परिक्रमा लगाया है। इसके बाद धर्मनगरी क्षेत्र के जानकीकुंड, गुप्तगोदावरी, भरतकूप आदि तीर्थ स्थानों के दर्शन किया। कोरोना काल के कारण एमपी क्षेत्र में मेला पर प्रतिबंध लगाया गया था। इसी तरह से यूपी क्षेत्र में श्रद्धालुओं से न आने की अपील की गईथी। वही एमपी क्षेत्र में मेला पर प्रतिबंध लगा रहा। हालाकि आने वाले श्रद्धालुओ को कहीं रोका नहीं गया। जहां कहीं भी अधिक श्रद्धालु दिखते वहां से हट जाने के लिए कहा गया। मेला क्षेत्र में मजिस्ट्रेटों व पुलिस अधिकारियों की भी तैनाती की गई थी। कुछ आश्रमों में भंडारे का आयोजन कर श्रद्धालुओं को प्रसाद का वितरण किया गया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages