कड़ी सुरक्षा के बीच जिले की छह विधानसभा सीटों पर उत्साह से पड़े वोट - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, February 23, 2022

कड़ी सुरक्षा के बीच जिले की छह विधानसभा सीटों पर उत्साह से पड़े वोट

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक लेते रहे पल-पल का जायजा 

66 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला ईवीएम मशीनों में कैद   

फतेहपुर, शमशाद खान । विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में आज जिले की सभी छह विधानसभा सीटों के लिए 2238 बूथों पर मतदाताओं ने उत्साह के साथ वोट डाले। जिससे 66 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला ईवीएम मशीनों में कैद हो गया। निर्धारित समय शाम छह बजे तक मतदान हुआ। शांतिपूर्ण मतदान सम्पन्न होने पर जिला एवं पुलिस प्रशासन ने राहत की सांस ली। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक पल-पल का जायजा पोलिंग बूथों में पहुंचकर लेते रहे। उधर कलेक्ट्रेट स्थित कंट्रोल रूम में भी मतदान की व्यवस्थाओं पर नजर रखी गई। समाचार लिखे जाने तक जिले में शाम पांच बजे तक लगभग 57.2 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। 

पोलिंग बूथ पर वोट देने के लिए लगी महिलाओं की लाइन एवं वोट डालकर बूथ से बाहर आतीं मुस्लिम महिलाएं।

विधानसभा चुनाव को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी अपूर्वा दुबे एवं पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह की मेहनत रंग लाई। जिले की जहानाबाद, बिंदकी, सदर, अयाह-शाह, खागा व हुसैनगंज विधानसभा क्षेत्र में शांतिपूर्ण माहौल के बीच मतदान प्रक्रिया सभी 2238 बूथों में सम्पन्न कराई गई। निर्धारित समय प्रातः सात बजे से ही पोलिंग पार्टियों ने मतदान शुरू करा दिया था। शहर क्षेत्र के सभी बूथों पर सुबह के समय मतदाताओं की लंबी-लंबी कतारे देखी गईं। सुरक्षा व्यवस्था में लगे जवानों एवं पुलिस कर्मियों ने मतदाताओं को कोविड गाइडलाइन का पालन करने की अपील की। बिना मास्क व मोबाइल लेकर आने वाले मतदाताओं को हिदायत दी गई। मास्क लगाकर ही मतदाताओं से वोट डालने को कहा गया। जैसे-जैसे समय आगे बढ़ता गया वैसे-वैसे बूथों पर सन्नाटा पसर गया। दोपहर के समय इक्का-दुक्का लोग ही मतदान केंद्रों पर दिखाई दिए। जिले में 500 संवेदनशील व 47 अति संवेदनशील बूथ थे। सभी बूथों पर शांतिपूर्ण मतदान हुआ। मतदाताओं में उत्साह भरने के लिए आठ आदर्श बूथ व तीस सखी बूथ भी बनाए गए थे। मतदान प्रक्रिया पर नजर रखने के लिए 14 जोनल मजिस्ट्रेट व 176 सेक्टर मजिस्ट्रेटों के अलावा 267 माइक्रोआबजर्वर व 18 स्टेटिक मजिस्ट्रेट मुस्तैदी से डटे रहे। प्राथमिक विद्यालय सलेमाबाद को इको बूथ बनाया गया था। उधर सभी राजनैतिक दलों के प्रत्याशी भी बूथों पर पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लेते रहे। किसी भी पोलिंग बूथ पर किसी तरह की समस्या या गड़बड़ी की सूचना नहीं आई। उधर पोलिंग बूथों के बाहर राजनैतिक दलों के एजेंट बस्ता लगाए हुए थे। जिन लोगों की मतदाता पर्ची उनके घर नहीं पहुंची थी वह लोग अपना-अपना नाम मतदाता सूची में ढूढ़ते नजर आए। मतदान को लेकर युवा मतदाताओं में गजब का उत्साह देखा गया। महिलाएं भी किसी से पीछे नहीं रही। किसी-किसी बूथ पर महिलाओं की लंबी-लंबी लाइनें भी देखी गई। मुस्लिम महिलाएं भी बुर्का पहनकर मतदान करने पहुंची। हालांकि दोआबा में किसी तरह का कोई विरोध नजर नहीं आया। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages