शिव अवतरण समारोह में जली परमात्मा की ज्योति - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, February 28, 2022

शिव अवतरण समारोह में जली परमात्मा की ज्योति

बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी को किया मंत्रमुग्ध

फतेहपुर, शमशाद खान । महाशिवरात्रि पर्व की पूर्व संध्या पर प्रजापति ब्रम्हाकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय ज्वालागंज की ओर से आध्यात्मिक कार्यक्रम शिव अवतरण समारोह का आयोजन शहर के हरिहरगंज पुल के नीचे एक होटल में किया गया। जिसमें ज्योतिस्वरूप शिव परमात्मा की ज्योति जलाकर आहवान किया गया। 

परमात्मा शिव की ज्योति जलातीं ब्रम्हाकुमारी बहनें।

परमात्मा शिव के वास्तविक स्वरूप एवं शिवरात्रि के आध्यात्मिक रहस्य को स्पष्ट करते हुए राजयोगिनी ब्रम्हाकुमारी नीरा दीदी ने बताया कि वर्तमान समय कलयुग की घोर अंधेरी रात का समय चल रहा है। जिसमें सभी मनुष्य आत्माएं काम, क्रोध, लोभ, मोह, अहंकार के काले बादलों में विषय विकारों में अंदर तक फंस चुकी हैं परन्तु जैसे सूर्य निकलते ही धीरे-धीरे अंधकार समाप्त हो जाता है और पुनः सवेरा आता है उसी प्रकार परमात्मा शिव का भी अवतरण इसी कलयुगी राज में होता है। शिवरात्रि एक दिन की ही नहीं इस समय शिव की रात्रि ही चल रही है। वह शिव भगवान जिनके ज्योति स्वरूप को सभी धर्म वाले ज्योर्तिलिंगम, पाउंट आफ लाइट, प्रकाश पुंज, नूरे खुदा बिंदु रूप को ही मानते हैं। द्वादश ज्योर्तिलिंगम भी इसी का ही यादगार है। वो ज्योतिस्वरूप शिव परत्मा जो अयोनि अकाय एवं निराकार है वो इस काली कलयुगी रात में मनुश्य तन का आधार लेकर परकाया प्रवेश करके हम सबको आत्मिक ज्ञान एवं सहज राजयोग के माध्यम से अज्ञात अंधेरे का विनाश करना सिखा रहे हैं। कार्यक्रम में छोटे-छोटे बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। बीके संगीता बहन, ममता, प्रीती, विमला ने भी अपने वक्तव्य सभी के बीच रखे। दिनेश, शुक्ला, चंद्रपाल ने सेवा का कार्यभार संभाला। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages