जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक मंडी परिसर में रहे मौजूद - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, February 22, 2022

जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक मंडी परिसर में रहे मौजूद

बसों के जरिए मतदान सामग्री के साथ मतदान कर्मियों को भेजा गया 

देर शाम तक बूथों में पहुंचे मतदान कर्मी, तैयारियां की पूरीं 

बांदा, के एस दुबे । विधानसभा चुनाव में चौथे चरण के लिए बुधवार को मतदान होना है। मंगलवार को मंडी परिसर से 1507 पोलिंग पार्टियों को मतदेय स्थलों के लिए रवाना किया गया। पहले से खड़ी कराई गई बसों के जरिए मतदान कर्मियों को सुरक्षा व्यवस्था के बीच रवाना किया गया। इस दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराग पटेल और पुलिस अधीक्षक अभिनंदन लगातार मंडी परिसर में मौजूद रहे। सभी पोलिंग पार्टियों के रवाना हो जाने के बाद अधिकारी वहां से वापस लौटे। इधर, देर शाम तक पोलिंग पार्टियां बूथों में पहुंच गईं और मतदान की सभी तैयारियां पूरी कर लीं। 

इस तरह सड़क किनारे कतार में खड़ी रहीं रोडवेज बसें, जाम से जूझे लोग

जिले में विधानसभा चुनाव के लिए कुल 1507 बूथ बनाए गए हैं। इन बूथों पर होने वाले मतदान के लिए 6032 कर्मियों को लगाया गया है। मंडी समिति में पोलिंग पार्टियों को रवाना करने के लिए चारों विधानसभा के लिए अलग-अलग काउंटर की व्यवस्था की गई। कर्मी सुबह आठ बजे से मंडी परिसर स्थल पहुंचना शुरू हो गए। कर्मियों ने मंडी परिसर पहुंचकर अपने काउंटर की जानकारी ली। इसके बाद उन्होंने काउंटरों से ईवीएम,
ईवीएम मशीन लेकर जाते मतदान कर्मी

स्टेशनरी, दवा किट, आयुष किट, सैनेटाइजर आदि सामान प्राप्त करने के बाद इनको चेक किया, जिससे किसी चीज की कमी निकलने पर इनकी पूर्ति कराई जा सके। दोपहर 12 बजे के बाद पोलिंग पार्टियों की रवानगी शुरू हो गई। बसों के माध्यम से इनको उनके बूथ तक पहुंचाया गया। उधर, प्रशासन ने 311 पोलिंग पार्टियों को रिजर्व में रखा है। विषम परिस्थितियों में प्रशासन रिजर्व मतदान कर्मियों को पोलिंग बूथों तक भेजेगा। देर शाम तक रवाना की गईं पोलिंग पार्टियों ने बूथों पर पहुंचने के बाद कर्मचारियों ने अपनी चुनाव संबंधी तैयारियां शुरू कर दी। अफसर भी पूरे समय तक पोलिंग पार्टियों के बूथों तक सकुशल सुरक्षित पहुंचने की जानकारी जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेटों से लेते रहे। इधर, पोलिंग पार्टी में कई ऐसी महिलाओं की ड्यूटी भी लगाई गई, जिनके छोटे बच्चे हैं। ये
मंडी परिसर में मतदान कर्मियों को ले जाने के लिए खड़ीं बसें

महिलाएं अपने बच्चों को साथ लेकर मंडी परिसर पहुंची। इन महिलाओं के साथ उनके पति भी मंडी परिसर पहुंचे। महिलाओं को पोलिंग पार्टियों के साथ सकुशल रवाना करने के बाद पति बच्चों को साथ लेकर वापस लौट गए। हालांकि कुछ महिलाओं ने चुनाव के दौरान उनकी ड्यूटी लगाए जाने को गलत बताया। कहा कि पिंक बूथ के अनुसार ही महिलाओं को चुनाव ड्यूटी में लगाया जाए।  मंडी परिसर पर स्वास्थ्य विभाग ने भी अपने काउंटर लगाए। इसके साथ ही थर्मल स्क्रिनिंग व हाथों के सेनिटाइजेशन के भी इंतजाम किए गए। इसके अलावा मतदान सामग्री के साथ सभी पोलिंग पार्टियों को प्रशासन ने पांच लीटर सैनिटाइजर का गैलन दिया। हिदायत दी है कि सभी मतदान कर्मी समय-समय पर अपने हाथों को सैनिटाइजेशन करते रहे। 

एसपी और एएसपी ने खुलवाया जाम

बांदा। शहर में आये दिन लगने वाले जाम की समस्या ने विकराल रूप धारण कर लिया है। रोज रोज के लगने वाले जाम ने जहां राहगीरों का निकलना दूभर कर दिया है। वही घंटों जाम में फंसे नागरिक अपने अपने दफ्तर य अस्पताल जाने वाले मरीज तथा स्कूल और कोचिंग जाने वाले छात्र छात्राएं घंटो जाम में फंसे रहते है। मंगलवार को सुबह से ही पूरे शहर में लगे जाम की वजह से जिले के एसपी अभिनंदन व एएसपी लक्ष्मी निवास मिश्र को मोर्चा

मंडी परिसर से ईवीएम मशीन लेकर जाते मतदान कर्मी

सम्हालना पड़ा। कारण कि मंगलवार को विधानसभा चुनाव के लिए पोलिंग पार्टियों को रवाना होना था। लेकिन शहर के कालूकुआं से ओवर ब्रिज बाबूलाल चौराहा, अतर्रा चुंगी, स्टेशन रोड, छावनी रोड आदि में भयंकर जाम लगा था, जो जहां था वही फंसकर रह गया, पुलिस और यातायात व्यवस्था ध्वस्त हो गई। आखिर जिले के पुलिस कप्तान अभिनंदन व एएसपी लक्ष्मी निवास मिश्र ने साधारण ट्रैफिक पुलिस की तरह घंटों हाथ हिलाते रहे, तब कहीं जाकर जाम खुला और यातायात व्यवस्था बहाल हो सकी। 



No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages