वेनेल्टाइन-डे : लुक छिपकर किया मोहब्बत का इजहार - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, February 14, 2022

वेनेल्टाइन-डे : लुक छिपकर किया मोहब्बत का इजहार

शहर के होटलों और रेस्टोरेंटों में रही युवा जोड़ों की भीड़ 

गुलाब का फूल और गुलदस्तों की जमकर हुई बिक्री  

बांदा, के एस दुबे । सोमवार को वेलेन्टाइन डे पर युवाओं ने अपने तरीके से मोहब्बत का इजहार किया। शहर के होटल और रेस्टोरेंट या फिर पिकनिक स्पाट पर पहुंचकर कहीं खुल्लम-खुल्ला तो कहीं चोरी से युवाओं ने मोहब्बत का इजहार किया। अबकी बार बजरंगियों का पहरा नजर नहीं आया और बेफिक्र होकर युवा चार पहिया और दोपहिया वाहनों में फर्राटा भरते नजर आए। किसी भी प्रकार की बंदिश न होने पर युवाओं ने कहा कि अगर पहरा भी हो तो वह मोहब्बत करना तो नहीं छोड़ देंगे।

वेलेन्टाइन-डे पर गुलाब का फूल और गुलदस्ते खरीदतीं युवतियां

शहर के विभिन्न पार्क और रेस्टोरेंट प्रेमी जोड़ों से गुलजार रहे और एक दूसरे को प्यार के पर्व की शुभकामनाएं दी। प्रेमी की पसंद का ख्याल रखते हुए एक दूसरे को उपहारों की सौगात दी गई और सुखमय जीवन व्यतीत करने की कामना की गई। घरवालों की नजर बचाकर युवक, युवतियों ने अपने प्रेमी से मुलाकात की और साथ में वेलेंटाइन-डे मनाया। बजरंगियों के पहरे से मुक्त रहते हुए अबकी बार प्रेमी जोड़ों ने मंदिरों में शरण ली और ईश्वर को साक्षी मानकर एक दूसरे का साथ निभाने का संकल्प लिया। प्रेमी जोड़ों का मानना है कि प्यार करना कोई पाप नहीं है। प्यार का विरोध करने वालों से डरकर वह प्यार करना और वेलेंटाइन-डे मनाना छोड़ने वाले नहीं है। बीते कई वर्षों से इंटरनेट के बढ़ते चलन ने ग्रीटिंग व्यवसाय पर ग्रहण लगा दिया है और लोग अब ग्रीटिंग के स्थान पर मोबाइल एसएमएस और इंटरनेट के जरिए अपने प्रेमी तक दिल की बात पहुंचाने में लगे रहे। प्यार का इजहार करने के लिए प्रेमी जोड़ों ने साथी को फूलों सजा गुलदस्ता, स्टाइलिश कपल्स, मैजिक बाटल, टेडी वियर आदि तोहफे देकर खुश करने की कोशिश की। इसके पहले वेलेंटाइन सप्ताह के तहत एक हफ्ते से प्यार का पर्व मनाया जा रहा है। प्रेम सप्ताह में प्रेमी जोड़ों ने अपने-अपने तरीके प्यार का इजहार किया और वेलेंटाइन-डे के साथ पर्व का जोरदार समापन किया। प्रत्येक वेलेंटाइन-डे पर बजरंगी भारतीय संस्कृति की रक्षा के नारे के साथ जुलूस निकालकर प्रेमी जोड़ों को परेशान करने का काम करते थे, लेकिन अबकी बार ऐसा नहीं हुआ। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages