बिल्डिंग में आग, लाखों का नुकसान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, February 14, 2022

बिल्डिंग में आग, लाखों का नुकसान

मकान में ऊपरी मंजिल में फंसे दंपति व बच्चों को सुरक्षित निकाला गया बाहर 

चूड़ी और कास्मेटिक की दुकान में शार्ट सर्किट से भड़क उठी आग 

तकरीबन तीन घंटे से अधिक समय तक दमकल कर्मियों ने की मशक्कत   

बांदा, के एस दुबे । शहर के महेश्वरी देवी मंदिर चौराहे पर तीन मंजिला मकान में सोमवार की सुबह शार्ट सर्किट से अचानक आग भड़क उठी। आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। मकान में नीचे चूड़ी और कास्मेटिक की दुकान है जबकि ऊपर परिवार रहता है। आग लग जाने के कारण मकान में रह रहे दंपति और उनके बच्चे घिर गए। मौके पर पहुंची दमकल कर्मियों ने चार घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया और दंपति व बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाला। अग्निकांड में नगदी समेत तकरीबन 30 लाख रुपए का नुकसान बताया जा रहा है। 

महेश्वरी देवी चौराहे पर आग से धधकली बिल्डिंग

महेश्वरी देवी कोतवाली रोड निवासी जय लखेरा चूड़ी समेत कास्मेटिक की दुकान किए है। नीचे दुकान और ऊपर उसका परिवार रहता है। सोमवार की सुबह मकान में अचानक आग भड़क उठी। नीचे खड़े एक दुकानदार ने आग की लपटें देखीं तो शोर मचाया। महेश्वरी देवी में बैठे पूर्व विधायक राजकुमार शिवहरे को घटना की जानकारी दी गई। राजकुमार शिवहरे ने सीओ सिटी को जानकारी दी। सूचना पाकर दमकल की तीन गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं। आग इतनी भयावह थी कि जय लखेरा अपने परिवार के साथ सबसे ऊपरी मंजिल में पहुंच गया। नीचे आग धंधक रही थी और ऊपर उनकी सांसें अटकी हुईं थी। शोरशराबा सुनकर आसपास के दुकानदार मौके पर पहुंचे और घरों से सीढ़ियां लाकर मकान में फंसे लोगों को बाहर निकालने का प्रयास किया गया। बाद में मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने सीढ़ी के माध्यम से जय लखेरा, उसकी पत्नी मीना लखेरा, अंकित लखेरा, अभि लखेरा को बाहर निकाला। तब उन लोगों ने राहत की सांस ली। सूचना पाकर अपर पुलिस अधीक्षक लक्ष्मी निवास मिश्र, सीओ सिटी राकेश सिंह, कोतवाली प्रभारी राजेंद्र सिंह राजावत फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। करीब चार घंटे की कड़ी
बिल्डिंग के नीचे मौजूद दमकल कर्मी व लोगों की भीड़

मशक्कत के बाद दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाया। इस अग्निकांड में 20 हजार रुपए नगद समेत करीब 30 लाख रुपए की संपत्ति जलकर खाक हो गई। चूड़ी और कास्मेटिक की दुकान में लगी आग की सूचना पाते ही दमकल की तीन गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं। कड़ी मशक्कत के बाद दमकल कर्मियों ने करीब चार घंटे की मेहनत के बाद आग पर काबू पाया। इतना ही नहीं नगर पालिका के कर्मचारी भी इस अग्निकांड में मदद करने में जुटे रहे। इसमें मुख्य अग्निशमन अधिकारी अनूप सिंह, फायर मैन हनीफ खान, फरीद खां, शिवदत्त, मुईनुद्दीन, चंद्रप्रकाश, सुरेश, कल्याण सिंह, रहेश कुमार, रिक्रूट आरक्षी के अलावा लाइनमैन गोविंद रैकवार, शफीक, सिद्दीक, नगर पालिका कर्मचारी राजकरन, मुकेश, विजय बहादुर आदि मौजूद रहे। व्यापारियों और आसपास के लोगों ने आग बुझाने वाले सभी कर्मियों की सराहना की। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages