प्रसाद चढ़ाने आए और अष्टधातु की मूर्तियां कर दीं पार - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, February 5, 2022

प्रसाद चढ़ाने आए और अष्टधातु की मूर्तियां कर दीं पार

रामजानकी मंदिर से चोरी पांच मूर्तियों में दो पीतल की भी शामिल

डीएसपी सदर की मौजूदगी में पुलिस ने खंगाले सीसीटीवी फुटेज  

फतेहपुर, शमशाद खान । शहर के पक्का तालाब स्थित रामजानकी मंदिर से शुक्रवार देर शाम बहुमूल्य मूर्तियां चुरा ले जाई गईं। घटना को अंजाम आरती के बाद तब दिया गया जब पुजारी मूर्तियां रखने की तैयारी कर रहे थे। पास आए दो युवकों ने प्रसाद के साथ चढ़ाने को पुजारी को 20 रुपए दिए। जमीन पर गड़े धन को निकालने की विधि पूछी। पुजारी, जानकारी न होने की बात कह करके बाहर स्थित शिवालय में ताला बंदकर लौटे तो राम लखन व जानकी की अष्टधातु व राधा कृष्ण की पीतल की मूर्तियां गायब थीं। युवक भी ़फरार हो चुके थे। मंदिर से कीमती मूर्तियां चोरी जाने की सूचना पर डीएसपी सदर ने घटना की तफ्तीश की। मंदिर के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले।

पक्का तालाब स्थित रामलखन जानकी मंदिर में चोरी के बाद खाली मूर्तियों का स्थान।

मध्य प्रदेश के सतना निवासी रामजानकी मंदिर के पुजारी केशवदास ने बताया कि शाम साढ़े सात बजे आरती के बाद उनके पास दो युवक प्रसाद चढ़ाने आए। दोनों कई दिन से लगातार आ रहे थे। लिहाजा उन्हें कोई शंका नहीं हुई। एक युवक ने प्रसाद में चढ़ाने को लड्डू के साथ 20 रुपए दिए। फिर दूसरे ने जमीन पर गड़ा धन निकालने की विधि पूछी। वह इस पर अनिभिज्ञता जताते हुए बाहर बने शिव मंदिर में ताला बंद करने चले गए। वापस लौटे तो देखा कि न तो राम लखन व जानकी की अष्टधातु की मूर्तियां हैं और न ही पीतल की निर्मित राधाकृष्ण की। दोनों युवक भी गायब थे। पास में मोबाइल न होने और घना कोहरा होने के कारण वह रात में पुलिस को जानकारी देने नहीं दे सके। इस मामले में डीएसपी दिनेश मिश्रा ने बताया कि चोरी गई मूर्तियों में तीन अष्टधातु व दो पीतल की बताई जा रही हैं। एसओजी टीम के साथ मौके पर छानबीन की गई है। सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages