सर्दी में बारिश की झड़ी, जनजीवन अस्त व्यस्त - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, January 9, 2022

सर्दी में बारिश की झड़ी, जनजीवन अस्त व्यस्त

किसान, पशु-पक्षी हलाकान, बरबादी की कगार पर मसूर की फसल 

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। चार दिनो से लगातार हो रही बारिश के चलते जनजीवन अस्त व्यस्त है। वर्षा होने से किसानों के सामने भी अब संकट गहराने लगा है। मसूर की फसल बरबादी की कगार पर है। ठंड से अन्य फसलों को भी नुकसान पहुंच सकता है। गलनभरी ठंड बढ़ने से पशु-पक्षियों की हालत बद बदतर है। गौशालाओं में बारिश से बचाव के इंतजाम न होने से मवेशियों की मौतें हो रही हैं।

पानी से लबालब खेत।

ठंड के मौसम में चार दिनो से हो रही बारिश से लोगों के हाल बेहाल हैं। दिनभर घरों से बाहर नहीं निकल रहे। किसानों के सामने भी पानी ने मुसीबत खड़ी कर दी है। मसूर की फसलें बरबाद होने की कगार पर हो गई है। अगर धूप नहीं निकली तो किसानों की हाडतोड मेहनत मिट्टी में मिल जाएगी। गलनभरी सर्दी से लोग बीमार हो रहे हैं। कोरोना का संकट पहले से ही है। पशु-पक्षियों के भी हाल बेहाल है। अन्ना जानवरों दिन रात ठिठुरते रहते हैं। आए दिन गौशालाओं में बेजुबान जानवरों की मौतों की खबरे मिल रही हैं। बेमौसम बारिश से जनजीवन खासा प्रभावित हुआ है। आम दिनचर्या अस्त व्यस्त है। लोग घरों में दुबके रहते हैं। आग या गर्म कपड़ों के सहारे ठंड से बचाव कर रहे हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages