नरैनी के रामचंद्रन पहाड़ पर लगा पारंपरिक मेला - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, January 14, 2022

नरैनी के रामचंद्रन पहाड़ पर लगा पारंपरिक मेला

हजारों की संख्या में श्रद्धालु मेले में पहुंचे, जमकर हुई खरीददारी 

श्रद्धालुओं ने देवीदेवताओं का जलाभिषेक और खिचड़ीदान कर कमाया पुण्य  

नरैनी, के एस दुबे । कस्बा क्षेत्र के बरुआ स्योढ़ा स्थित रामचंद्रन पहाड़ में मकर संक्रांति में लगने वाला पारंपरिक मेला लगा। सैकड़ों क्षेत्रवासियों ने पहुंचकर देवी देवताओं को जल चढ़ाया और खरीदारी की। कोरोना नियमों का पालन नहीं किया गया।

रामचंद्र पहाड़ में लगे मेले में उमड़े श्रद्धालु

रामचन्द्रन पहाड़ में मकर संक्रांति के दिन प्राचीन काल से मेला लगने की परम्परा रही है, मान्यता है कि त्रेता युग में वनवास के दौरान भगवान राम ने यहा सीता लक्ष्मण के साथ एक रात विश्राम किया था। पहाड़ के ऊपर स्थित छोटे से तालाब के पानी में डुबकी लगाकर पुण्य प्राप्त करने की भी परम्परा है।यहा मौजूद मंदिरों में देवी देवताओं की मूर्तियां बिराजमान है। कोरोना की तीसरी लहर दस्तक दे रही है, उसके बाद भी शासन द्वारा कोई गाइड लाइन जारी न होने के कारण मेला में रोक नहीं थी। क्षेत्रीय दुकानदारों ने सुबह से ही अपनी दुकाने सजा ली थीं, दोपहर बाद बड़ी मात्रा में क्षेत्रवासी मेले में सम्मिलित हुये लेकिन न तो किसी ने मास्क का प्रयोग किया था और न ही दो गज की दूरी का पालन किया गया। जबकि तीसरी लहर ने कस्बे में भी दस्तक दे दी है। मेले में ज्यादा संख्या में महिलायें व छोटे बच्चे शामिल हुए। मेले में शांति व्यवस्था के लिए पुलिस के कुछ जवानों को लगाया गया था। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages