बसपा ने खेला मुस्लिम दांव, सदर व हुसैनगंज से दिए टिकट - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, January 28, 2022

बसपा ने खेला मुस्लिम दांव, सदर व हुसैनगंज से दिए टिकट

पिछले चुनाव में हुसैनगंज सीट से अकेले उतारा था मुस्लिम प्रत्याशी

फतेहपुर, शमशाद खान । पिछले चुनाव में जिले की सारी छह विधानसभा सीट में तीसरे नंबर पर सिमटी बसपा ने मुस्लिम दांव फेंका है। पार्टी ने दो सीट से मुस्लिम प्रत्याशी उतार दिए हैं। इनमें से एक सीट पर पिछले चुनाव में भी मुस्लिम उम्मीदवार को उतारा जा चुका है। इस तरह बसपा ने मुस्लिम फैक्टर के सहारे चुनावी वैतरणी पार करने की फील्ड तैयार की है।


बसपा ने 23 फरवरी को होने वाले चुनाव में जहानाबाद विधानसभा सीट से पूर्व विधायक आदित्य पांडेय को उतारा है। पिछले 2017 के विधानसभा चुनाव में इसी सीट के लिए आदित्य पांडेय ने राष्ट्रीय लोकदल से दावा किया था। पूर्व विधायक आदित्य 21812 वोट पाकर चौथे स्थान पर रहे थे, जबकि बसपा उम्मीदवार राम नारायन निषाद 32010 वोट पाकर तीसरे स्थान पर थे। यह चुनाव अपना दल के जैकी ने सपा के मदन गोपाल वर्मा से 47606 मत के अंतर से जीता था। बिंदकी सीट पर इस बार पार्टी ने सुशील कुमार पटेल को उतारा है। इस सीट पर बसपा से वर्ष 2017 का चुनाव 

पूर्व विधायक सुखदेव प्रसाद वर्मा ने लड़ा था। जिन्हें 32297 मत मिले थे। यहां पर भी बसपा तीसरे स्थान पर थी। भाजपा के करण सिंह पटेल ने 56378 के अंतर से सपा के रामेश्वर दयाल को पराजित किया था। सदर सीट में भी बसपा को तीसरा स्थान नसीब हो सका था। यह चुनाव समीर त्रिवेदी ने लड़ा था, जिन्हें 35548 मत हासिल हुए थे। भाजपा के सिटिंग विधायक विक्रम सिंह ने 31498 के अंतर से सपा के चंद्र प्रकाश लोधी को हराया था। इस बार महोई प्रधान अय्यूब अहमद को टिकट दिया गया है। अयाह शाह सीट की बात करें तो बसपा के राम बहादुर 27365 मत पाकर तीसरे स्थान पर सिमट गए। भाजपा के विकास गुप्त ने 51965 के अंतराल से सपा प्रत्याशी व बसपा शासन में खेल राज्यमंत्री रहे अयोध्या प्रसाद पाल को शिकस्त दी थी। इस बार पार्टी ने चंदन पाल पर भरोसा किया है। खागा में बसपा ने पूर्व जिलाध्यक्ष सुनील कुमार गौतम को उतारा था, लेकिन यहां भी पार्टी का सिक्का नहीं चल सका। भाजपा की कृष्णा पासवान ने 56438 के बड़े अंतर से कांग्रेस के ओम प्रकाश गिहार से चुनाव जीत लिया। चुनाव में बसपा प्रत्याशी को 38359 मत मिल सके थे। इस बार दशरथ लाल सरोज चुनाव लड़ने जा रहे हैं। हुसैनगंज सीट पर बसपा ने पूर्व विधायक मोहम्मद आसिफ को उतारा था लेकिन वह भी करामात नहीं कर सके। भाजपा के रणवेंद्र प्रताप सिंह को 73595 मत मिले जबकि कांग्रेस की ऊषा मौर्या को 55022 मत। इस चुनाव में बसपा उम्मीदवार फरीद अहमद हैं। सदर हुसैनगंज विधानसभा सीट से उतारे गए दोनों मुस्लिम प्रत्याशी अपने वर्ग पर कितना प्रभाव छोड़ पाते हैं। यह देखने वाली बात होगी।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages