किसानों के बैंक खाते से लिंक कराएं आधार : डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, January 4, 2022

किसानों के बैंक खाते से लिंक कराएं आधार : डीएम

डीएम ने विपणन केंद्र शाखा का किया निरीक्षण

किसानों के बैठने के साथ गुड़-पानी का किया जाए इंतजाम 

बांदा, के एस दुबे । जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने सोमवार को खुरहंड मंडी में संचालित धान क्रय केन्द्र विपणन शाखा और पीसीएफ का निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय विपणन केंद्र शाखा के केंद्र प्रभारी अखिलेश चंद्र द्विवेदी तथा पीसीएफ के सुरेन्द्र कुशवाहा उपस्थित रहे। विपणन शाखा द्वारा धान क्रय केंद्र के 49 किसानों का 42.25 कुंतल धान क्रय किया गया जिसमें 41 किसानों का 72 लाख 936 का भुगतान हो चुका है। शेष 8 किसानों का आधार लिंक न होने के कारण भुगतान नहीं हो पाया। तीन किसानों का खाता वैलिड पाया गया और 5 किसनों का खाता आधार लिंक न होने कारण इनवेलिड था। विपणन शाखा धान क्रय केंद्र खुरहण्ड में किसानों के बैठने के लिए कुर्सी, छाया, पानी की व्यवस्था नहीं पाई गई जिस पर जिलाधिकारी द्वारा केंद्र प्रभारी को निर्देशित किया गया कि शीघ्र व्यवस्था करायें। पानी, गुड़, बिस्कुट, कुर्सी आदि की व्यवस्था कराने के निर्देश दिए। साथ ही केंद्र प्रभारी को निर्देशित किया कि जिन कृषकों के खाते अनवैलेड हैं उन किसानों को अवगत कराते हुए उनका आधार खाते से लिंक करायें ताकि उनका भुगतान समय से किया जाए। 

धान की तौलाई परखते डीएम अनुराग पटेल

जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने धान क्रय केन्द्र के बाद किसान सेवा सहकारी समिति एवं किसान सहकारी संघ लिमिटेड खुरहण्ड का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय खुरहण्ड सहकारी संघ लिमिटेड बंद पाया गया। किसान सहकारी संघ समिति में आज उपस्थित कर्मचारी हरिदास द्वारा बताया गया कि सोमवार को 500 बोरी खाद प्राप्त हुई थी जिसमें 88 किसानों को 497 बोरी यूरिया खाद वितरित की गई है तथा डीएपी की चार बोरी 3 कृषकों को वितरित की गई है। किसान समिति में कृषकों की लाइन लगी थी जिलाधिकारी ने तत्काल जिला कृषि अधिकारी बांदा को खाद उपलब्ध कराने के निर्देश दिए तथा कृषकों को टोकन व लाइन लगाकर खाद वितरित करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी के निर्देश पर तत्काल मौके पर खाद पहुंची जिस पर किसानों द्वारा खुशी जाहिर की गयी। जिलाधिकारी द्वारा मंडी समिति अतर्रा में संचालित धान क्रय केंद्र का आज आकस्मिक निरीक्षण किया गया।  धान क्रय केंद्र के विपणन शाखा के दो, पीसीएफ के एक तथा नैफेड क्रय केन्द्र संचालित पाए गए। धान क्रय केंद्र विपणन शाखा में उप जिलाधिकारी अतर्रा प्रकाश तिवारी एवं केंद्र प्रभारी अनुपम उपाध्याय उपस्थित रहे। अनुपम उपाध्याय द्वारा बताया गया कि 114 किसानों का 8633.60 कुंतल धान क्रय किया गया है। 98 किसानों का 16749184 रूपये का  भुगतान हो चुका है। जिलाधिकारी द्वारा शेष 16 किसानों की सूची मांगी जाने तथा टोकन के सम्बन्ध में पूंछे जाने पर केन्द्र प्रभारी द्वारा सही जानकारी न देने पर नाराजगी व्यक्त की तथा निर्देश दिए कि तत्काल 16 किसानों का अवशेष भुगतान कराया जाए। निरीक्षण के दौरान केंद्र पर उपस्थित किसानों द्वारा बताया गया कि जिस दिन किसानों का टोकन जारी होता है उसी दिन धान क्रय नही किया जाता है और धान क्रय केन्द्रों में बैठने, पानी, आदि की व्यवस्था भी नहीं है। जिलाधिकारी द्वारा कहा गया कि शासन के निर्देशानुसार  जलपान आदि की व्यवस्था कराई जाए। क्रय केन्द्र पर वृद्ध किसान रमाकांत पुत्र मइयादीन निवासी बल्लान, श्याम सुंदर पुत्र केदार ने अवगत कराया कि टोकन जनरेट न होने के कारण धान क्रय नहीं किया जा रहा है। जिलाधिकारी द्वारा किसानों की समस्या सुनने के उपरांत उनके टोकन तत्काल निर्गत कराते हुए धान क्रय किये जाने के सचिव मंडी समिति को निर्देश निर्देशित दिये। जिस पर उन किसानों द्वारा खुशी जाहिर करते हुए जिलाधिकारी जिन्दाबाद के नारे लगाये। इसके बाद डीएम ने अतर्रा चुंगी चौकी, काली देवी मन्दिर के पास तथा रोडवेज बस स्टैण्ड में असहाय, वृद्ध एवं ठण्ड से ठिठुर रहे गरीबों को कम्बल वितरण किए। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages