गूगल मीट पर कप्तान की क्लास छूट रहे दारोगा व थानेदारों के पसीने - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, January 18, 2022

गूगल मीट पर कप्तान की क्लास छूट रहे दारोगा व थानेदारों के पसीने

हल्कावार समीक्षा से रोजाना खुल रही लापरवाह उप निरीक्षकों की फाइल

देर रात आनलाइन रहते हैं थानों के पुलिसकर्मी, होते हैं सवाल-जवाब 

खागा/फतेहुपर, शमशाद खान । विधानसभा चुनाव की तैयारी व क्षेत्र में अपराध नियंत्रण को लेकर शासन और उच्चाधिकारियों के निर्देशों के सापेक्ष काम न करने वाले दारोगा व थानेदारों को जनवरी की सर्द रातों में गर्मी का एहसास हो रहा है। पुलिस कप्तान की गूगल मीट की क्लास में उनकी हाजिरी हो रही है। बीते कुछ दिनों से विभिन्न सर्किल क्षेत्रों में एसपी की देर रात तक चलने वाली मीटिंग पूरे महकमे में चर्चा का विषय बनी हुई है। बारी- बारी से कप्तान हल्कावार सबके कार्यों की समीक्षा संग उन्हें अनुशासन का पाठ पढ़ाते हैं। इस तरह की डिजिटल मानीटरिंग से लापरवाही उजागर होने पर पुलिसकर्मियों के माथे पर चिंता की लकीरें देखने को मिल रही हैं। अकर्मण्य थाना प्रभारियों को डांट- फटकार के साथ जांच का सामना करना पड़ रहा है। इस नई व्यवस्था से कानून व्यवस्था कायम रखने में अधिकारियों को सहूलियत होगी। 

पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह।

तीन से चार घंटे तक चलती है आनलाइन मीटिंग

फतेहपुर। रात लगभग 10 बजे से डिजिटल मीटिंग की शुरुआत होती है। इसमें क्रमवार प्रतिदिन तीन से चार सर्किल के क्षेत्राधिकारी, थाना प्रभारी व उपनिरीक्षक शामिल होते हैं। कप्तान बारी-बारी से सभी से रू-ब-रू होते हैं।  आवश्यकता पड़ने पर जिले की सभी सर्किल के थानों के पुलिस कर्मियों को मीटिंग में जोड़ा जाता है। कोरोना संक्रमण के दौर में वर्चुअल माध्यम का अधिक से अधिक इस्तेमाल किया जा रहा है। पूरे जनपद में कानून व्यवस्था की जानकारी अपडेट होती रहती है। विधानसभा चुनाव को लेकर भी दिशा- निर्देश दिए जा रहे हैं।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages