बिना काम कराए लाखों रुपए का हुआ फर्जी भुगतान - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, January 2, 2022

बिना काम कराए लाखों रुपए का हुआ फर्जी भुगतान

ग्राम पंचायत आंडौली में किया गया घपला 

वीडीओ द्वारा गठित की गई जांच समिति  

कमासिन (बांदा), के एस दुबे । ग्राम पंचायतो में लाखों का वारा न्यारा करना एक आम बात है। बिना कार्य अथवा एक ही कार्य का नाम बदलकर फर्जी भुगतान हो जाना भी अब आम बात सी होकर रह गई है। ऐसा ही एक कमाल ग्राम पंचायत आडौली का सामने आया है, जिसमे आज तक कार्य नही कराया गया जबकि भुगतान आठ माह पूर्व में ही हो गया है, शिकायत पर बीडीओ ने जांच समिति गठित की है। समाजसेवी अरुण कुमार मिश्रा द्वारा दी गई शिकायत में यह आरोप लगाया गया है कि पंचायत भवन में लाइट फिटिंग के नाम पर मई में प्रशासक के कार्यकाल के दौरान करीब 85 हजार रुपये का भुगतान सिंह बिल्डर्स के नाम किया गया। इसके अलावा पंचायत भवन में पेंट

ग्राम पंचायत भवन अंडौली में कराया गया पेंट

व पुट्ठी के नाम पर करीब 75 हजार रुपये का भुगतान सिंह बिल्डर्स के नाम किया गया। लेकिन पंचायत भवन में आज तक पुट्ठी व पेंट का कार्य नही कराया गया। लेकिन ताजुब यह है कि आठ माह व्यतीत हो गये हैं, किंतु पंचायत भवन में लाइट फिटिंग व पेंट नही कराया गया है। जबकि बिना पुट्ठी कराये ही दीवालों की रंगाई करवा दी गई है। इसी तरह पंचायत भवन में मिट्टी पुराई के नाम पर व्यापक धांधली की गई है। करीब दो लाख रुपये का भुगतान अभय टेडर्स बबेरू के नाम पर किया गया। जबकि मौके पर 50 हजार रुपये से अधिक का कार्य नही है। कूप मरम्मत के नाम पर व साफ सफाई के नाम पर भी करीब तीन लाख रुपये का फर्जी भुगतान किया गया है। पंचायत भवन में अस्सी हजार रुपये की लागत से कराया गया बोर ध्वस्त पड़ा है। इसके अलावा भी मनरेगा के कच्चे पक्के कार्यो में जमकर धांधली की गई है। खण्ड विकास अधिकारी भैरों प्रसाद ने कहा कि अरुण कुमार मिश्रा द्वारा कथित धांधली की शिकायत दी गई है, जिसमे स्थलीय जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम गठित की गई है। जांच के लिए धर्मेंद्र कुमार प्रभारी एडियो पंचायत श्यामलाल जेईयमाई जेई आरईयस को नामित किया गया है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages