बालिका दिवस : बालिकाओं को अधिकारों के प्रति किया जागरूक - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, January 25, 2022

बालिका दिवस : बालिकाओं को अधिकारों के प्रति किया जागरूक

बांदा, के एस दुबे । कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय में सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय एवं राष्ट्रीय सेवा योजना प्रकोष्ठ के संयुक्त तत्वाधान में सोमवार को बालिका दिवस का आयोजन किया गया। यह दिवस भारत में हर साल 24 जनवरी को मनाया जाता है। राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाने का उद्देश्य बालिकाओं का उनके अधिकारों के प्रति जागरूकता करना तथा समाज में लैगिंक असमानता के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करना है। 

कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन से हुआ। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में कुलपति डा. नरेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि देश में आज अन्तर देखने को मिल रहा है, लोग बेटियों के जन्म में उत्सव की तरह माना रहे हैं। अशिक्षित व मजदूर वर्ग की बालिकाओं को पढ़ने व बढ़ने के लिए हमें मिलकर जागरूक करना होगा। बालिकायें आज सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ रही है, जिससे देश के विकास में वृद्धि हुयी है, परन्तु देश में भ्रूण हत्या आज भी कही न कही व्याप्त है जिन्हे दूर करने की जरूरत है।  

दीप जलाकर शुभारंभ करते अतिथि

कार्यक्रम में अतिथियों का स्वागत एवं कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए सह-अधिष्ठाता सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय डा0 वंदना कुमारी ने कहा कि देश को आधी आबादी को नजर अंदाज कर देश का सर्वांगीण विकास संभव नहीं है। विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना समन्वयक डा. एके चौबे ने राष्ट्रीय सेवा योजना के बारे में विस्तार से बताया। पीएचडी की छात्रा श्वेता गुप्ता ने इस दिवस के अवसर पर अपने अनुभवों को साझा किया। साथ ही भारतीय संविधान को बालिका शिक्षा के लिए अधिकार देने के लिए सराहा। कार्यक्रम का संचालन आनलाइन व आफलाइन दोनो माध्यम से हुआ। छात्राओं में जागरूकता पैदा करने के लिये आनलाइन क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय, डा. जीएस पंवार, अधिष्ठाता उद्यान महाविद्यालय डा. एसवी द्विवेदी, अधिष्ठाता वानिकी महाविद्यालय डा. संजीव कुमार, अन्य शैक्षणिक स्टाफ विभिन्न महाविद्यालय की महिला शैक्षणिक स्टाफ डा. सौरभ, डा. दीप्ती भार्गव, डा. श्वेता सोनी, डा. विनीता बिष्ट, डा. वैशाली गंगवार एवं पीएचडी व परास्नातक छात्रायें भी उपस्थित रहीं। कार्यक्रम के अंत में आभार प्रदर्शन डा. दीक्षा गौतम, सहायक प्राध्यापक, गृह विज्ञान महाविद्यालय द्वारा किया गया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages