तकनीकी संभावनाओं का केंद्र बने विश्वविद्यालय : कुलपति - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, January 28, 2022

तकनीकी संभावनाओं का केंद्र बने विश्वविद्यालय : कुलपति

कृषि विश्वविद्यालय में किया गया ध्वजारोहण 

बांदा, के एस दुबे । 73वें गणतन्त्र दिवस हम सभी के लिये संकल्प का दिवस बनें। विश्वविद्यालय परिवार के सभी सदस्य इस परिक्षेत्र व कृषकों के लिये अपना सर्वोत्तम देने का प्रयास करें। आज विश्व में तकनीकी का महत्व बहुत ज्यादा है। हम सभी कहीं ना कहीं तकनिकियों का उपयोग कर अपने दैनिक जीवन को सरल बना रहे हैं। यह विश्वविद्यालय इन्ही तकनीकी सम्भावनाओं का केन्द्र बन सकें, इसके लिये हम सभी को प्रयासरत रहना चाहिये। गणतन्त्र दिवस के इस पावन अवसर पर हम संविधान शपथ लेकर भारत को एक अखण्ड भारत बनाये रखने के

विश्वविद्यालय में ध्वजारोहण करते कुलपति

लिए सभी अपने स्तर से प्रयास करें। संविधान के रचयिता डा. बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर जी के भारत निर्माण के सपनों को साकार करना हम सभी का कर्तव्य है। यह विचार बांदा कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुलपति प्रो. नरेन्द्र प्रताप सिंह ने गणतन्त्र दिवस पर ध्वजारोहण के बाद अपने संबोधन में कहा। कुलपति ने अपने सम्बोधन में
विश्वविद्यालय में संबोधित करते कुलपति प्रो. नरेंद्र प्रताप सिंह

विश्वविद्यालय एवं वैज्ञानिकों के सामने आ रही चुनौतियों एवं उसके समाधान के बारे में विस्तार से चर्चा की। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के 11 शैक्षणिक एवं गैर-शैक्षणिक कर्मचारियों को उनके द्वारा विश्वविद्यालय में किये गये कार्य के लिए प्रशंसा पुरस्कार प्रदान किया गया। विश्वविद्यालय के कुलसचिव, प्रो. एसके सिंह द्वारा उपस्थित जनमानस को संविधान सभा की शपथ दिलायी गयी। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के अधिकारीगण, निदेशकगण,
गणतंत्र दिवस पर शपथ लेते विश्वविद्यालय कर्मी 

अधिष्ठातागण, विभागों के विभागाध्यक्ष, शैक्षणिक एवं गैर-शैक्षणिक कर्मचारीगण कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुये उपस्थित रहे। कार्यक्रम का आयोजन विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में किया गया था। कार्यक्रम का संचालन डा. सौरभ द्वारा किया गया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages