पांटून पुल निर्माण में देरी से लोग परेशान विभाग बेपरवाह - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, January 12, 2022

पांटून पुल निर्माण में देरी से लोग परेशान विभाग बेपरवाह

जनवरी के प्रथम सप्ताह में पांटून पुल निर्माण का किया जा रहा था दावा

यमुना नदी में पानी कम होने के साथ ही बीच में रेत खुलने का इंतजार 

खागा/फतेहपुर, शमशाद खान । कस्बा व बांदा जनपद के दांदो घाट के मध्य प्रति वर्ष यमुना नदी पर बनने वाला पांटून पुल एक बार फिर से महीनों देरी के बाद भी नहीं बन सका। विभागीय अधिकारी जनवरी के प्रथम सप्ताह में पांटून पुल निर्माण का दावा कर रहे थे। यमुना नदी में पानी कम होने के साथ ही बीच में रेत खुलने का इंतजार किया जा रहा है। पांटून पुल न बनने से दोनों जनपद के लोग नांव पर जोखिम के साथ सफर करने को मजबूर हैं।

अधूरा पड़ा पांटून पुल।

यमुना नदी पार करके फतेहपुर व बांदा जनपद का आवागमन करने वाले लोगों को अभी कुछ दिन और मुश्किलों भरे गुजारने पडेंगे। अधिकांश वर्षों में दिसंबर महीने के आखिरी तक पांटून पुल बनकर तैयार हो जाता था। स्कूली छात्र-छात्राएं दैनिक कर्मचारी किसान व व्यापारी मजबूरी में नाव पर सवार होकर नदी पार करते हैं। लोक निर्माण विभाग द्वारा पांटून पुल निर्माण से पहले नदी में चार बड़ी नांव का संचालन कराया जाता है। पांटून पुल निर्माण में देरी की वजह से सबसे अधिक नुकसान किशुनपुर व आस-पास के कस्बों में व्यापारियों को उठाना पड़ता है। गल्ला आढ़ती सुशील शुक्ला, बउवा मिश्रा, दुर्गा प्रसाद आदि लोगों का कहना था कि इस वर्ष बेहद देरी से पांटून पुल निर्माण शुरू होगा। आठ महीने के लिए बनने वाला पांटून पुल से लोगों को बमुश्किल पांच महीने ही आवागमन की सुविधा मिल पाती है।

पक्का पुल निर्माण भी नहीं हो सका पूरा

खागा/फतेहपुर। किशुनपुर व दांदो घाट के मध्य यमुना नदी में पक्का पुल निर्माण भी जारी है। चार साल पहले पक्का पुल निर्माण शुरू हुआ था। बजट के चक्कर में कई बार निर्माण की रफ्तार सुस्त पड़ी। दिसंबर महीने में पूरा होने वाला पक्का पुल निर्माण 90 फीसदी के आगे नहीं बढ़ सका।

कर्मचारियों को भेजकर दिखाएंगे जल स्तर

खागा/फतेहपुर। लोक निर्माण विभाग के जेई उमेश चंद्र विश्वकर्मा ने बताया कि पांटून पुल निर्माण को लेकर कई बार स्वयं मौके पर जाकर जल स्तर देख चुके हैं। यमुना नदी में पानी अधिक होने की वजह से निर्माण कर पाना मुश्किल हो रहा है। दो धाराओं के ऊपर पुल निर्माण किया जाता है। पानी कम होने के बाद पांटून पुल निर्माण शुरू किया जाएगा।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages