कोरोना टीकाकरण में बुंदेलखंड में झांसी अव्वल - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, January 19, 2022

कोरोना टीकाकरण में बुंदेलखंड में झांसी अव्वल

एक साल में 100 फीसद आबादी ने ली डोज 

पहली डोज में बांदा का दूसरा स्थान

बांदा, के एस दुबे । कोविड-19 से लोगों को सुरक्षित बनाने के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। 16 जनवरी 2021 से शुरू हुए टीकाकरण को एक साल पूरा हो गया है। बुंदेली भी इसमें पीछे नहीं हैं। बुंदेलखंड में पहली डोज लगवाने में झांसी के बाशिंदे सबसे आगे हैं। बांदा जनपद का दूसरा स्थान है। बुंदेलखंड के 60 लाख यानी 93 फीसद से ज्यादा पात्र लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगाई जा चुकी है। 

महिला को टीका लगाती स्वास्थ्य कर्मी

कोविड टीकाकरण को एक साल पूरा हो गया है। टीकाकरण अभियान में जिले के डाक्टर, एएनएम और आशा कार्यकर्ताओं सहित स्वास्थ्य कर्मियों ने अहम भूमिका निभाई है। झांसी मंडल की स्वास्थ्य अपर निदेशक डा. अल्पना बरतारिया बताती हैं कि टीकाकरण को लेकर लोगों में तमाम भ्रांतियां आईं। स्वास्थ्य विभाग ने इनको दूर करने के भरसक प्रयास किए। लोगों ने भी समर्थन देते हुए इन भ्रांतियों का दर किनार कर केंद्रों में पहुंचकर टीका लगवाया। इसका नतीजा रहा कि पिछडे़ बुंदेलखंड के झांसी जनपद में 14.94 लाख यानि 100 फीसद से ज्यादा आबादी ने पहली डोज लगवाई है। जालौन जनपद में 11.22 लाख यानि 89 और ललितपुर में भी 8.18 लाख यानि 89 फीसद से ज्यादा टीकाकरण हो चुका है। 

चित्रकूटधाम मंडल के अपर निदेशक डा. नरेश गौतम ने बताया कि स्वास्थ्य टीमों ने घर-घर जाकर लोगों को कोविड के प्रति जागरूक करते हुए बचाव के लिए एक मात्र उपाए वैक्सीनेशन करवाने की सलाह दी। इसके नतीजे में लोगों ने खुद भी आगे आकर कोरोना का टीका लगवाया। बांदा जनपद में 18 वर्ष की आयु पूरी कर चुके 12.37 लाख यानी 97 फीसद से ज्यादा लोगों ने कोरोना की पहली डोज लगवाई है। बुंदेलखंड के सातों जनपद में यह दूसरे स्थान पर है। इसी तरह हमीरपुर जनपद में 7.55 लाख यानी 95 फीसद, चित्रकूट में 6.59 यानी 94 फीसद और महोबा में 5.72 यानी 88 फीसद आबादी पहली डोज से संतृप्त हो चुकी है।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages