गोवंश के हत्यारों पर की जाए सख्त कार्रवाई - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, December 11, 2021

गोवंश के हत्यारों पर की जाए सख्त कार्रवाई

विश्व हिंदू महासंघ गौरक्षा प्रकोष्ठ ने सीएम को भेजा ज्ञापन 

दोषियों को सेवा से बर्खास्त किए जाने की मांग  

बांदा, के एस दुबे । मध्य प्रदेश की घाटियों में गोवंश को जिन्दा दफनाए जाने पर विश्व िंहदू महासंघ के पदाधिकारियों ने विरोध जताते हुए प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपते हुए दोषियों पर रासुका के तहत कार्रवाई किए जाने की मांग की है। नाराज पदाधिकारियों ने यह भी कहा कि जांच में दोषी पाए जाने वाले अधिकारियों को सेवा से बर्खास्त किया जाए, ताकि कोई भी अधिकारी दोबारा ऐसी हिमाकत न कर सके। 

जिलाधिकारी को ज्ञापन देने आए विश्व हिंदू महासंघ पदाधिकारीगण

विश्व हिंदू महासंघ के पदाधिकारी लामबंद होकर कलेक्ट्रेट पहुंचे। वहां पर पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। ज्ञापन में विहिप पदाधिकारियों ने बताया कि नरैनी तहसील में, लगभग 250 गोवंश को नरैनी एसडीएम व ईओ के निर्देश पर, मध्य प्रदेश के जंगल में ट्रकों में बुरी तरीके से ठूंस कर ले जाया गया, इस दौरान कुछ गायों की दर्दनाक मौत हो गई थी और कुछ बुरी तरीके से घायल भी हो हो गए थे, जिसकी सूचना ट्रकों के साथ गए कर्मचारियों ने अपने उच्च अधिकारियों को दी। तत्काल उच्च अधिकारियों के निर्देश पर रातों-रात मरी हुई व घायल गायों को जेसीबी मशीन से खोदवाकर मिट्टी और पत्थरों के नीचे दफना देने के फरमान जारी किए गए। आनन-फानन में कर्मचारियों ने अपने उच्च अधिकारियों का फरमान मानते हुए बेरहमी के साथ गोवंश को जिंदा दफनाकर चल दिए। जब सुबह ग्रामीणों ने देखा तो कुछ गोवंश सांसे ले रही थीं, जिसकी सूचना ग्रामीणों ने प्रशासन को दी, इससे पूरे क्षेत्र में गोवंश के साथ की गई क्रूरता पर जनता में जबरदस्त आक्रोश है। गौरक्षा समिति पदाधिकारियों ने कहा है कि जिला प्रशासन द्वारा जो अभी तक कार्यवाही की गई हैं, उससे विश्व हिंदू महासंघ गौ रक्षा समिति व जनमानस संतुष्ट नहीं है।। मांग की है कि जिला प्रशासन ने किसकी अनुमति से गोवंशो को गोशाला से जंगल में ट्रको द्वारा भेजा,  जिन्दा गोवंशो को किसकी अनुमति से जंगलो में दफनाया, इन बेजुबान गौवंशो की मौत का जिम्मेदार कौन हैं। सभी दफनाये गए गौवंशो का पोस्ट मार्टम कराया जाये, दोषी पाए जाने पर प्रशासनिक अधिकारियों पर का काउस एक्ट और रासुका जैसी धाराएं लगा कर तत्काल प्रभाव से हिरासत में लेकर प्रशासनिक कार्यवाही की जाए। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages