कमजोर विद्यार्थियों को शिक्षक छोटे पुत्र की तरह दें स्नेह : राकेश - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, December 26, 2021

कमजोर विद्यार्थियों को शिक्षक छोटे पुत्र की तरह दें स्नेह : राकेश

बेहतर अध्यापन के लिए शिक्षकों के प्रशिक्षण शिविर का आयोजन 

फतेहपुर, शमशाद खान । सरस्वती बाल मंदिर इंटर कालेज में संबद्ध विद्यालयों के कक्षा 10 व 12 के अध्यापकों का प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें अध्यापक एवं छात्र-छात्राओं के बीच शैक्षिक संबंधों, व्यवहार कर्तव्यों आदि पर चर्चा करने के साथ ही बेहतर तालमेल व सामंजस्य से बेहतर परिणाम की अपेक्षा की गई।

प्रशिक्षण शिविर को संबोधित करते प्रबंधक एवं शामिल शिक्षक।

रविवार को सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज रघुवंशपुरम में विद्यालय से सम्बद्ध स्कूलों के शिक्षक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें गुरु व शिष्य के बीच संबंधों पठन पाठन के तौर तरीकों एवं बुद्धिक क्षमताओं पर चर्चा करने के साथ ही कमज़ोर छात्र छात्राओं को भी मुख्यधारा तक लाने के लिए आसान प्रक्रियाओं के ज़रिए पठन पाठन कराए जाने को लेकर प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया। प्रशिक्षण का शुभारंम माँ सरस्वती का पूजन व छात्राओं द्वारा प्रस्तुत सरस्वती वंदना से किया गया। तत्पश्चात छात्राओं द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत करते हुए प्रतिभागी सभी आचार्यों को रोली चंदन लगाकर अभिनंदन किया। शिविर को सम्बोधित करते हुए प्रबन्धक राकेश त्रिवेदी ने कहा कि शिक्षक की वेशभूषा बोल-चाल आदि सभी क्रियाएं भी अध्यापन का ही अभिन्न अंग है। शिक्षकों को अपने विद्यार्थियों के सामने ऐसा आचरण प्रस्तुत करना है जिससे विद्यार्थी शिक्षकों के अच्छे आचरण से भी सीख लें सके। विद्यार्थियों के साथ अध्यापक पुत्रवत व मित्रवत व्यवहार करें तो एक आदर्श विद्यालय का निर्माण स्वमेव ही हो जायेगा। आवाहन किया कि कमजोर विद्यार्थियों को अपने सबसे छोटे पुत्र की तरह स्नेह देते हुए उत्साहित करें जिससे वह अन्य तेज विद्यार्थियों के बराबर आ सकें। शिविर में संक्रमण के प्रति सजगता, विद्यालय परिसर की स्वच्छता तथा सांस्कृतिक गतिविधियों के विकास पर विशेष बल देने के लिए कहा गया। इस मौके पर खागा शाखा के प्रधानाचार्य राजकपूर, प्रधानाचार्य रघुवंशपुरम शिवबाबू, प्रधानाचार्य सरेनी त्रिभुवन सिंह, प्रधानाचार्य शिवपुरम धीरेन्द्र सिंह, प्रधानाचार्य तिन्दवारी श्रवण, प्रधानाचार्य भरवारी राजेश समेत 300 से अधिक शिक्षक शिक्षिकाएं मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages