घोषणा : दलबदल चेहरो पर बसपा ने खेला दांव - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, December 17, 2021

घोषणा : दलबदल चेहरो पर बसपा ने खेला दांव

घोषणा से गरमाया चुनावी माहौल

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। विधानसभा चुनाव की तैयारियों में सभी दल जुटे हैं। जिसमें सबसे पहले बसपा ने अपने प्रत्याशियों के नाम घोषित कर दिया है। वर्ष 2017 में चुनाव लडने वाले और उपचुनाव लडने वाले तीनों प्रत्याशियों के टिकट काट दिए हैं। नये चेहरों पर दांव लगाया है। यह भी देखने वाली बात है कि दोनों प्रत्याशी दलबदल कर बसपा में शामिल हुए हैं। जिले की दो विधानसभा सीट सदर चित्रकूट से कांग्रेस छोडकर आए पुष्पेंद्र सिंह और मानिकपुर विधानसभा से भाजपा छोडकर आये बलवीर पाल पर दांव लगाया है। मुख्यालय के राम वाटिका में हुए कार्यक्रम में बाद बसपा बुन्देलखंड सेक्टर प्रभारी लालाराम ने यह घोषणा की है। बसपा की इस घोषणा के बाद चुनावी माहौल में गर्मी आ गई है।

बलबीर पाल।

सदर सीट से 2017 में बसपा ने जगदीश गौतम का टिकट दिया था जो वर्तमान में भाजपा में शामिल हो चुके हैं। मानिकपुर विधानसभा सीट पर पूर्व विधायक चंद्रभान पटेल को टिकट दिया था। इसके बाद इसी मानिकपुर विधानसभा के 2018 के उपचुनाव में बसपा ने सोनभद्र निवासी राजनारायण निराला कोल को चुनाव मैदान में उतारा था। इस बार के बदले हालात में इन तीनों का टिकट काटा गया है। पूर्व विधायक का टिकट काटने के पीछे का कारण यह बताया जा रहा है कि उपचुनाव में पूर्व विधायक चंद्रभान सिंह पटेल ने चुनाव लडने में अनिच्छा जताई थी। हलांकि इस संबध में पूर्व विधायक का कहना है कि ऐसा बिल्कुल नहीं था। वह तो पार्टी के हर आदेश का पालन करने को तैयार रहे हैं। यह निर्णय भी उन्हें मान्य है।

घोषित प्रत्याशी पुष्पेन्द्र सिंह

सदर विधानसभा सीट के बसपा प्रत्याशी पुष्पेंद्र सिंह मूल रूप से बसिला गांव निवासी हैं। 35 साल से कांग्रेस पार्टी में रहे और एक बार इसी सीट से विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं। लखनऊ व इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्र राजनीति से शुरुआत करने वाले एमएएलएलबी पुष्पेंद्र का मूल कार्य कृषि है। दो दिंसबर 2021 को कांग्रेस से मोह भंग होने पर बसपा ज्वाइन की थी। इसके इनाम के तौर पर बसपा ने उन्हें टिकट दिया है। वर्ष 1990 से बसपा से राजनीति की शुरुआत करने वाले सगवारा गांव निवासी बलवीर पाल का लोकसभा चुनाव के दौरान बसपा से मोहभंग हुआ तो वह भाजपा में शामिल हुए थे। सूत्रों के अनुसार खास तजव्बो न मिलने पर उन्होंने एक साल पूर्व बसपा में वापसी की। इंटर तक की शिक्षा ग्रहण करने वाले बलवीर जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लडे लेकिन हार गये थे। कोआपरेटिव सोसायटी लोहदा के चेयरमैन रहे। उनका मूल कार्य कृषि है। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages