ओमिक्रोन देगा दस्तक, लापरवाही की हद ................................................ - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, December 22, 2021

ओमिक्रोन देगा दस्तक, लापरवाही की हद ................................................

देवेश प्रताप सिंह राठौर 

(वरिष्ठ पत्रकार)

   झांसी उत्तर प्रदेश में कोरोना नियमों का पालन ना के बराबर मैं बात करता हूं झांसी के बीआईपी क्षेत्र सिविल लाइन में स्थित विकास भवन की विकास भवन के मुख्य द्वार पर करीब कई हफ्तों से देखा जा रहा है कि लंबी लाइनें बिल्कुल सटे  सटे खड़े हुए लोग कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। साल 2021 में मैंने चुनाव के समय ग्राम पंचायत के समय चुनाव कार्यों के संबंध में ट्रेनिंग पीरियड की मैंने एक तस्वीर लेकर और 

कोरो ना के नियमों को जिस तरह के जिले के आला अधिकारी जो ट्रेनिंग दे रहे थे ।

एक सीट पर दो दो लोग बैठे थे तथा जिले के आला अधिकारी ट्रेनिंग दे रहे थे चुनाव की यह समाचार जब प्रकाशित हुआ जिले के आला अधिकारी ने कहा कि आप तो बड़ा अच्छा लिखते हैं पूरा  आपने लेख लिख दिया उन्हें अच्छा नहीं लगा

वही स्थित आज  फिर बन रही है मैंने अपने संवाददाता को भेजा और मैं स्वयं वहां पर गया मैंने उन लोगों से पूछा आप लोग अक्सर देखते हैं लाइन में बहुत सारे लोग लगे रहते हैं 


किस लिए आप लोग लाइन में लगे हैं लोगों ने बताया मेरा आधार कार्ड ठीक होना है आधार कार्ड से संबंधित कुछ संशोधन कराने हेतु लोग लाइनों में लगे हुए हैं बहुत से लोगों ने कहा है कि हम लाइन में लगते हैं और हमारा काम नहीं होता है हम वापस चले जाते हैं बहुत परेशान हैं कोई नियम कानून सिस्टम नहीं है 

मैंने उनसे कहा क्या आप लोगों को यहां खड़े करने के लिए कोई भी पुलिस या कोई भी किसी विभाग का व्यक्ति आपको सोशल डिस्टेंस के बारे में नहीं बताता है।  

ओमिक्रोन चल रहा है कोरोना की तीसरी लहर  के संकेत प्राप्त हो रहे हैं आप लोगों को डर नहीं लगता , हम लोग खड़े रहते हैं सुबह से आकर और काम हो गया तो हो गया नहीं वापस घर चले जाते हैं।विकास भवन के गेट पर इस तरह की भीड़ सुबह 10:00 बजे देखने को मिलती है। जहां पर जिले के टॉप आला अधिकारी बैठते हैं वहां की स्थिति खराब है तो आगे कि हम क्या उम्मीद कर सकते हैं ।अन्य स्थानों पर सोशल डिस्टेंस और कोरोना नियमों का पालन कैसे हो पाएगा यह एक बड़ा प्रश्न है।

क्योंकि कोरोना की तीसरी लहर ओमी क्रोन के रूप में आ चुकी है।रैलियां और यात्राओं में भीड़ ओमिक्रोन के खतरे को बढ़ा रही हैं । डब्ल्यूएचओ के अनुसार ओमिक्रोन तेजी से आता है और फैलता चला जाता है दक्षिण अफ्रीका, ब्रिटेन और यूरोप के उदाहरण यही कह रहे हैं भारत में  के मरीज ओमिक्रोन  145 की संख्या में पहुंच चुके हैं। जो चिंता का विषय है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages