भारत बनेगा अफगानिस्तान, राजधानी होगी कानपुर : तोगड़िया - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, December 11, 2021

भारत बनेगा अफगानिस्तान, राजधानी होगी कानपुर : तोगड़िया

जनसंख्या नियंत्रण कानून न बना तो हिन्दू हो जाएगा अल्पसंख्यक

एमएसपी कानून बनाए केंद्र सरकार 

फतेहपुर, शमशाद खान । देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून न बना तो जहां देश का हिंदू अल्पसंख्यक हो जाएगा वहीं भारत अफगानिस्तान बन जाएगा और इसकी राजधानी कानपुर होगी। देश के किसानों की हालत बद से बदतर है। किसान कर्ज के बोझ तले दबा हुआ है, इसलिए केंद्र सरकार शीघ्र ही एमएसपी कानून बनाए। 

पत्रकारों से बातचीत करते अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया।

यह बात शनिवार को शहर के खुशवक्तरायनगर स्थित अंतर्राष्ट्रीय हिन्दू परिषद राष्ट्रीय बजरंग दल के जिला महामंत्री अन्नू पाल के आवास पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. प्रवीण तोगड़िया ने कही। उन्होने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में हिंदुओं की सरकार बनेगी। जो भी सीएम बनेगा वह हनुमान व राम भक्त ही होगा। उन्होने कहा कि इस बार के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 412 सीटें मिलेगी और भाजपा सरकार आई तो राम भक्त होगी। अखिलेश सरकार बनी तो हनुमान भक्त होगी। उन्होने कहा कि हिंदुओं के पुरखों ने मुगलों के सामने झुक कर इस्लाम नहीं स्वीकारा। जिन हिंदुओं से इस्लाम नहीं स्वीकारा वह दिल के टुकड़े हैं कोई राइट तो कोई लेफ्ट है। राजनीति में सब संभव है। जनसंख्या कानून पर कहा कि जल्द ही केंद्र सरकार को देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू करना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता तो आने वाले समय में सौ करोड़ हिंदू घटकर दस साल बाद 95 करोड़, फिर 85 करोड़ और 50 साल बाद 45 करोड़ रहकर अल्पसंख्यक हो जाएगा। उधर मुसलमानों की जनसंख्या दर 2.4 है। जो आने वाले समय में पचास करोड़ हो जाएंगे। अगर ऐसा हो गया तो भारत अफगानिस्तान बनेगा और इसकी राजधानी काबुल नहीं कानपुर होगी। उन्होने केंद्र सरकार से जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की मांग की। कहा कि दो से अधिक बच्चे पैदा करने वालों को कोई सुविधा न दी जाए। उन्होने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि दस सालों में किसानों को फसल का दाम नहीं मिला। जिसके कारण किसानों को 45 लाख करोड़ नहीं मिला और इस समय किसानों के ऊपर 17 लाख करोड़ रूपए का कर्ज है। उन्होने किसानों के लिए एमएसपी कानून बनाने की मांग की। किसानो के तीनो बिलों को वापस लिए जाने के सवाल पर कहा कि यह नरेंद्र भाई से पूछिए। वह उनके प्रवक्ता नहीं हैं। पहले दोस्ती थी लेकिन आजकल बातचीत होती। मैं छोटा सेवक हूँ जो कि आप लोगों के साथ बैठा हूँ देश का सेवक 100 एकड़ के बंगले में हैं। अब यह अंतर हो गया है। इससे पूर्व छात्र परिषद के कार्यकर्ताओं ने अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष का 51 किलो की माला पहनाकर स्वागत किया। इस मौके पर रणधीर सिंह, अजय मौर्य, दीपक पांडेय, देवेंद्र यादव, उत्कर्ष सिंह, मयंक सिंह, आकाश सोनी, यश सोनी, अंश तिवारी, सतेन्द्र कुमार, अरविंद कुमार मौजूद रहे। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages