चित्रकूट को घोषित कराएंगें धार्मिक राजधानी : जगदगुरु - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, December 13, 2021

चित्रकूट को घोषित कराएंगें धार्मिक राजधानी : जगदगुरु

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। हिंदू एकता महाकुंभ के महाआयोजन के लिए धर्म नगरी, यज्ञशाला पंडाल बन कर तैयार हो गया है। पदम विभूषण जगदगुरू रामभद्राचार्य अध्यक्षता करेंगें। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत मुख्य अतिथि होंगें। आयोजन में उप्र व मप्र मुख्यमंत्री भी शामिल होंगें। देश के प्रमुख पीठों के पीठाधीश्वर भी महाकुंभ में सम्मिलित होकर अपने विचार रखेंगें। 

रविवार को पत्रकारों से रूबरू हुए जगदगुरु रामभद्राचार्य महाराज ने कहा कि अयोध्या के बाद काशी और फिर मथुरा की बारी है। लव जिहाद, हिंदुओं में विघटन, समान नागरिक संहिता, गौ हत्या, धर्म परिवर्तन, नदियों के संरक्षण, सनातन धर्म की रक्षा पर प्रमुख रूप से चर्चा होगी। कहा कि चित्रकूट को धार्मिक राजधानी घोषित करेंगे। उचित समय का इंतजार संत कर रहे हैं। राजधानी घोषित सरकार करेगी। तुलसी पीठ के युवराज आचार्य रामचंद्र दास और विधायक संजय पाठक की अगुवाई में तैयारियां पूरी हो चुकी है। कलश यात्रा निकाल कर कार्यक्रम की शुरुआत होगी। देश के कोने-कोने से हिंदू शामिल होंगे। हवन कुंड तैयार किया जा रहा है। भीड को टीमें नियंत्रित करेंगी। ऐतिहासिक आयोजन में विभिन्न क्षेत्रों की जिम्मेदारी दी गई है। आयोजन में रामकुमार बाहेती, संजय, आशीष त्रिपाठी, विनय कुमार, डा. विनोद कुमार मिश्रा, डा. गोपाल मिश्रा, राघव परिवार के भक्तगण समेत विश्व विद्यालय परिवार लगातार कार्य योजना में कडी मेहनत कर रहे हैं। यह जानकारी पीआरओ एसपी मिश्रा ने दी है।

पत्रकारों से रूबरू होते जगदगुरु।

होर्डिंग्स के जरिए छवि निखारने मे जुटे सफेदपोश नेता

चित्रकूट। हिन्दू एकता महाकुंभ में लाखों की भीड़ को अपना चेहरा दिखाने के लिए सफेदपोश नेताओं ने अपनी होर्डिंग लगवा दी है। मुख्यालय से लेकर कार्यक्रम स्थल तक जगह-जगह होर्डिंगें लटकी नजर आ रही है। महाकुंभ में पहुंचने के आवाहन के एवज में अपना भी प्रचार प्रसार करने में कोर कसर नहीं छोड़ी जा रही है। लोगों का कहना है कि चुनाव नजदीक होने के चलते नेता भी अपनी छवि चमकाने में जुटे हैं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages