पहाड़ के अवैध खनन का विरोध शुरू, धरना दिया - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, December 8, 2021

पहाड़ के अवैध खनन का विरोध शुरू, धरना दिया

जनपद महोबा के सिंधनपुर बघारी गांव का मामला  

बांदा, के एस दुबे । पड़ोसी जनपद महोबा के सिंधनपुर बघारी गांव में अवैध तरीके से हो रहे पहाड़ खनन के विरोध में ग्रामीणों ने बुंदेलखंड किसान यूनियन के बैनर तले किसान नेताओं के साथ बुधवार से अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। किसानों का कहना है कि जब तक अवैध खनन रोककर दोषियों पर कार्रवाई नहीं की जाती, तब तक धरना जारी रहेगा। बुंदेलखंड किसान यूनियन ने ग्रामीणों की इस लड़ाई में कदम से कदम मिलाकर चलने का आश्वासन दिया है। 

धरने पर बैठे किसान नेता और ग्रामीण

मालुम हो कि सिंधनपुर बघारी गांव स्थित गाटा संख्या 481 रकबा 9.478 हेक्टेयर और गाटा संख्या 480 रकबा 0.113 हेक्टेयर पर संक्रमणीय भूमिधर में ग्रामीण काबिज हैं। वहां पर उनके रिहायशी मकान बने हैं। जबकि पहाड़ का गाटा संख्या 482 रकबा 2.432 हेक्टेयर (6 एकड़) है, जिसमें से 2.024 हेक्टेयर (5 एकड़) शायरा बानो पत्नी शोयब निवासी विवेक नगर कबरई के नाम पर वर्ष 2019 में खनन पट्टा स्वीकृत हुआ। पहाड़ का शेष रकबा पूरब दिशा में रिक्त क्षेत्र है, जो कि सदैव से सिद्धबाबा मंदिर, चौपड़ स्थान तथा पहाड़ के दक्षिण दिशा में आबादी होने के कारण छोड़ दिया जाता रहा। आबादी और पहाड़ के बीच की दूरी शून्य है। बावजूद इसके गलत तरीके से प्रशासन ने खनन पट्टा करते हुए अब आबादी वाले स्थान पर खनन करा रहा है। ब्लास्टिंग की वजह से बड़े-बड़े पत्थर लोगों के घरों में गिर रहे हैं। ब्लास्टिंग के समय परिवार दूर इलाके में जाने को मजबूर है। ग्रामीणोंने इसका विरोध किया और महोबा प्रशासन को आपत्ति जताते हुए अवगत कराया तो अवैध खनन में संलिप्त लोगों ने दर्जनों ग्रामीणों पर गंभीर धाराओं में मुकदमे दर्ज करा दिए। मजबूर होकर किसानों को मंडल मुख्यालय के अशोक स्तंभ तले धरना दे रहे हैं। बुंदेलखंड किसान यूनियन राष्ट्रीय अध्यक्ष विमल कुमार शर्मा ने कहा कि ग्रामीण और किसानों के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस दौरान राकेश कुमार, शिवपाल, उमाशंकर, रवि, रामकृपाल, राजबहादुर, रामकृपाल कुशवाहा, ब्रजलाल, रामकुमार, राधेश्याम, हरीशंकर, हीरालाल, रामकुमार, रामदुलारी, सरोज, शिवकली, कल्ली, फूलारानी, रामलली, रूपा, चुन्नी देवी, गोमती, सुमितरानी, फूलकली, अवधेश, रवि आदि किसान मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages