राजनीति नहीं, साहित्य बनाता है समाज : असगर वजाहत - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, December 3, 2021

राजनीति नहीं, साहित्य बनाता है समाज : असगर वजाहत

कंपोजिट विद्यालय मोहलिया में किया नवीन पुस्तकालय का उद्घाटन

हथगाम/फतेहपुर, शमशाद खान । सात आसमान, कैसी आगी लगाई, जिन लाहौर नई वेख्या, महाबली जैसे अनेक कालजई साहित्य की कृतियां समाज को देने वाले प्रख्यात साहित्यकार डॉ असगर वजाहत ने कहा कि राजनीति नहीं बल्कि साहित्य बनाता है समाज, इसलिए समाज में साहित्य की बहुत बड़ी भूमिका है। श्री वजाहत नगर के ठाकुर जय नारायण सिंह मेमोरियल पीजी कॉलेज में आयोजित संगोष्ठी में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। बाद में, उन्होंने कंपोजिट विद्यालय मोहलिया में नवनिर्मित पुस्तकालय का फीता काटकर शुभारंभ भी किया।

मोहलिया में पुस्तकालय का अवलोकन करते प्रख्यात लेखक असगर वजाहत।

इसके पहले प्राचार्य रमेश चंद्र ने मुख्य अतिथि डॉक्टर असगर वजाहत एवं विशिष्ट अतिथि सैयद अब्दुल्ला जाफरी को शाल भेंट कर उनको सम्मानित किया। श्री वजाहत ने मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्जवलित करने के बाद समाज में साहित्य की भूमिका विषयक संगोष्ठी पर बहुमूल्य विचार व्यक्त किए। उन्होंने कई प्रसंगों का उल्लेख करते हुए बताया कि साहित्य, संगीत, कला, कविता ने न जाने कितने लोगों को आत्महत्या करने से रोकने का काम किया। ऐसे अनेक उदाहरण हैं। उन्होंने कहा कि मनुष्यता हर क्षेत्र में आवश्यक है और यह मनुष्यता साहित्य से ही संभव है। साहित्य एवं शिक्षा नहीं है तो मनुष्य मनुष्य नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि साहित्यकार मर जाने के बाद भी समाज को कुछ न कुछ देता रहता है। समाज को सभ्य, संस्कारित, सुंदर एवं शांतिप्रिय बनाने में साहित्य की बहुत बड़ी भूमिका है। कार्यक्रम में डॉ आरबी सिंह ने आभार व्यक्त किया जबकि संचालन शिवशरण बंधु हथगामी ने किया। कवि शिवम हथगामी ने कलाम सुनाकर माहौल और अधिक खुशगवार कर दिया। इस मौके पर विनोद मौर्य, हरि गोविंद, लव प्रताप सिंह, रमेश मौर्य, जितेंद्र सिंह, प्रवीण कुमार, जितेंद्र गुप्ता, अनिल द्विवेदी, नमिता यादव, फरीद अहमद, सौरभ श्रीवास्तव, ईश्वर चंद्र, नीतेश द्विवेदी, लालजी गुप्त, शैलेंद्र कुमार, राम कुमार शर्मा, शिवपाल यादव, कैलाश शरण सहित पूरा स्टाफ मौजूद रहा। श्री वजाहत ने कंपोजिट विद्यालय मोहलिया में नवनिर्मित पुस्तकालय का शुभारंभ किया। विशिष्ट अतिथि खंड शिक्षा अधिकारी विश्वनाथ पाठक के प्रतिनिधि के रूप में शिवप्रकाश द्विवेदी उपस्थित रहे। कॉलेज की हेड शाहीन तबस्सुम के नेतृत्व में स्वागत किया। इस मौके पर प्रधान प्रतिनिधि नियाज अहमद, प्रधान मलखान, इदरीस अहमद मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages