महिला अस्पताल में मनाया गया नवजात बच्चियों का जन्मोत्सव - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, December 25, 2021

महिला अस्पताल में मनाया गया नवजात बच्चियों का जन्मोत्सव

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के तहत आयोजित हुआ कार्यक्रम

जन्मोत्सव मनाने के साथ डीएम एवं राज्य महिला आयोग की सदस्य ने दिया शुभआशीष 

बांदा, के एस दुबे । पूर्व प्रधानमंत्री व भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की जयन्ती को हर वर्ष सुशासन दिवस के रूप में मनाया जाता है। मिशन शक्ति अभियान-3 के तहत बेटी पढाओ, बेटी बचाओ के तहत नवेली-बुन्देली कन्या जन्मोत्सव अभियान का शुभारम्भ शनिवार को 300 शैय्या युक्त महिला जिला अस्पताल के प्रागंण में संपन्न हुआ। इसमें 11 नवजात बच्चियों का जन्मोत्सव मनाया गया, केक काटा गया। सोहर गीत भी गाए गए। नवेली-बुन्देली बच्ची की माता वन्दना पत्नी सानू, रश्मी पत्नी रामनारायन, सुनीता पत्नी देवकुमार, नाजमी पत्नी अब्दुल रहीम, रश्मी पत्नी शिवपूजन, संगीता पत्नी अर्जुन, चन्दना देवी पत्नी संजय, मीना पत्नी सरफराज, खुशबू पत्नी श्याम बाबू, साधना पत्नी सूर्य प्रकाश, मंजू पत्नी अरविन्द कुमार के नवजात बच्चियों का जन्मोत्सव महिला जिला अस्पताल में मनाया गया और जन्म प्रमाण देकर माताओं को सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के दौरान नवजात बच्ची को गोद में लिए डीएम

शहर के रफीक नर्सिंग होम में फरहीन पती इरसाद खान, मन्ना देवी पती हबीब खान जो जाफरगंज फतेहपुर के मूल निवासी थे। इसके बाद अक्षय क्नीलिक में शिवांगी पत्नी प्रवीण कुमार, अवनी परिधि में सिया दुलारी पत्नी राजेश, आयशा पत्नी मो. अकील मर्दननाका, ममता पत्नी अनूप शुक्ला जो पुकारी के रहने वाले थे। विक्रम चाइल्ड में शिवानी समाधिया पत्नी नितीश समाधिया, रीता पत्नी आशीष शंकर, गायत्री पत्नी शिव प्रताप, अहाना नर्सिंग होम में उमा भारती पत्नी इन्द्रजीत सहित उपरोक्त की बच्चियों का जन्मोत्सव मनाया गया और जन्म प्रमाण पत्र देकर जिलाधिकारी अनुराग पटेल के द्वारा सम्मानित किया गया। जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने बताया कि श्रम विभाग द्वारा संचालित मातृत्व शिशु एवं बालिका प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों की नवजात बच्चियों के जन्म पर 25 हजार रुपये माता को, 28000 रूपये की आर्थिक सहायता एवं 25000 रूपये की एफडी कराई जाएगी। इसी प्रकार महिला कल्याण विभाग में संचालित मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत बच्ची के जन्म उपरान्त 2000 रूपये की मुफ्त आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित प्रधानमंत्री मातृत्व वन्दना योजना के अन्तर्गत दूसरी किस्त 2000 रूपये लाभ के रूप में प्राप्त कराया जायेगा। जननी सुरक्षा योजना के अन्तर्गत 1400 रूपये ग्रामीण स्तर पर तथा 1000 रूपये शहरी स्तर पर प्रसव उपरान्त आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। डाक, बैकिंक के तहत सुकन्या समृद्धि योजना के तहत 0 से 10 वर्ष की आयु की बालिका का खाता डाकघर एवं बैंको में खुलवाया जायेगा। जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि नवेली-बुन्देली कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है कि बालक-बालिकाओं के बीच बढ़ रहे लैंगिग भेदभाव को कम किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि बेटियों के संरक्षकों दादा-दादी को एक साथ केन्द्र सरकार एवं राज्य सरकार की योजनाओं से सम्बन्धित लाभ दिलाया जायेगा। राज्य महिला आयोग की सदस्य प्रभा गुप्ता ने सर्वप्रथम भारतरत्न अटल बिहारी वाजपेयी की जयन्ती शुभकामनायें दीं। इस दौरान में अपर जिलाधिकारी उमाकान्त त्रिपाठी, अपर जिलाधिकारी न्यायिक अमिताब, डिप्टी कलेक्टर सौरभ यादव, डिप्टी कलेक्टर लाल सिंह यादव, भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष वन्दना गुप्ता, उपाध्यक्ष अर्चना सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. विजय तिवारी, चिकित्सा अधीक्षक एसएन मिश्रा, चिकित्सा अधीक्षिका सुनीता देवी, डा. एमसी पाल, डा. आरएन प्रसाद, संचालनकर्ता अर्थ एवं संख्याधिकारी संजीव बघेल, मेडिकल स्टाफ सहित सम्बन्धित अधिकारी एवं महिला शक्ति उपस्थित रहीं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages