अधिकारियों को बर्खास्त कर भेजा जाए जेल - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, December 13, 2021

अधिकारियों को बर्खास्त कर भेजा जाए जेल

बांदा, के एस दुबे । अशोक लाट तिराहे में अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन तीसरे दिन भी रविवार को जारी रहा। लेकिन जिले के नरैनी तहसील के जिन अधिकारियों द्वारा 40 गायों को जिन्दा पहाड़ीखेरा के जंगलों में दफन कर दिया गया, उन अधिकारियों को न तो बर्खास्त किया गया और न ही उन्हें पशु क्रूरता अधिनियम के तहत जेल भेजा गया। 


राष्ट्रवादी गौसेवा दल शासन-प्रशासन से मांग की है कि किसी भी पशु के साथ क्रूरता पूर्वक हत्या में सात वर्षों के जेल होती है, तो गौतामा के हत्यारों को कम से कम 14 वर्ष की कठोर कारावास होना चाहिए, जिससे अपरिधयों को दोबारा ऐसा कुकृत्य करने के लिए सौ बार सोंचना पड़े। राष्ट्रवादी गौसेवा दल ने अधिकारियों को बर्खास्त कर जेल भेजे जाने की मांग की है। इस दौरान कुशल प्रसाद यादव, रामफल यादव, जीपी एडवोकेट, छोटेलाल यादव, श्याम सरोज पाठक, श्यामबाबू त्रिपाठी बुंदेलखंड प्रभारी, रामप्रकाश, मुकेशचंद्र जैन, ओमप्रकाश आदि मौजूद रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages