पुलिस मुठभेड़ में पकड़े गए दो बदमाश, जेवरात और नगदी बरामद - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, December 20, 2021

पुलिस मुठभेड़ में पकड़े गए दो बदमाश, जेवरात और नगदी बरामद

बदमाशों के कब्जे से सोने-चांदी के जेवरात सहित नगदी बरामद 

पकड़े गए बदमाशों पर दर्ज था 25-25 हजार रुपए का ईनाम 

बांदा, के एस दुबे । मुठभेड़ के दौरान सोमवार को पुलिस को कामयाबी हासिल हुई और दो इनामियां बदमाशों को पुलिस ने धर दबोचा। पकड़े गए बदमाशों के पास से पुलिस को नगदी और सोने चांदी के जेवरात के साथ ही चोरी की बाइक बरामद हुई है। पुलिस ने बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए सलाखों के पीछे भेज दिया है। 

पत्रकारों से रूबरू होते हुए अपर एसपी लक्ष्मी निवास मिश्र ने पुलिस लाइन सभागार में बताया कि विगत 7 अक्टूबर को आबकारी विभाग में कार्यरत सिपाही शरताज खां निवासी क्योटरा थाना कोतवाली नगर के सूने घर को पाकर लाखों के जेवरात व नगदी चोरी किए गए थे। इसी प्रकार 17 फरवरी को स्वराज कॉलोनी थाना कोतवाली

घटना की जानकारी देते पुलिस अधिकारी

नगर निवासी रोहित अवस्थी को क्योटरा स्थित पेट्रोल पंप के पास मारपीट कर बदमाश मोबाइल व नगदी लूट ले गए थे। उसके अलावा 9 दिसंबर को भूरागढ़ नयी बस्ती निवासी सुशील कुमार बाजपेयी थाना मटौंध की इन अपराधियों के द्वारा मोटर साइकिल चोरी कर ली गई थी। तीनों घटनाओं के संबंध में थाना कोतवाली नगर व थाना मटौंध में चोरी व लूट की सुसंगत धाराआें में अभियोग पंजीकृत किया गया था। गजोधर उर्फ जागेंद्र श्यामलाल निवासी मोहनपुरा थाना मटौंध, अशोक वर्मा पुत्र गंगाराम निवासी रूपनगर थाना चरखारी जनपद महोबा के नाम प्रकाश में आए। इन अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एसपी अभिनंदन के द्वारा 25-25 हजार रुपये का ईनाम घोषित किया गया था। एसओजी टीम द्वारा अपने सूचना तंत्र को सक्रिय किया तथा भूरागढ़ तिराहे पर संदिग्ध व्यक्तियों की चैकिंग के लिए थाना मटौंध व एसओजी की संयुक्त टीम द्वारा कार्यवाही की जा रही थी कि दो संदिग्ध व्यक्ति मुंह पर गमछा बांधे बिना नंबर प्लेट की मोटरसाइकिल से मटौंध की तरफ से बांदा की ओर आ रहे थे कि तिराहे पर पुलिस बल द्वारा रोके जाने पर यह अपराधी बाईपास की ओर तेज रफ्तार से भागने लगे। जिन्हें पुलिस बल द्वारा पीछा किया गया तो मोटरसाइकिल पर पीछे बैठे अपराधी द्वारा पुलिस टीम पर जान से मारने की नियत से फायरिंग करने लगा। आत्मरक्षा में पुलिस द्वारा भी फायरिंग की गई तो वह दोनों मोटरसाइकिल से गिर गए। अपराधियों की पहचान गजोधर उर्फ पुत्र श्यामलाल, अशोक वर्मा पुत्र गंगाराम के रूप में हुई। अभियुक्तों के कब्जे से चोरी व लूट के 80 ग्राम सोना गलाया हुआ, 786 ग्राम चांदी गलायी हुई, एक जोड़ी पायल व एक कड़ा चांदी का, 70 हजार रुपये नगद, एक चोरी की मोटरसाइकिल, दो अदद देशी तमंचा सहित दो खोखे व दो जिंदा कारतूस बरामद हुए। वहीं अभियुक्त गजोधर प्रजापति व अशोक वर्मा के विरुद्ध अलग-अलग थानों में संगीन धाराओं में पांच-पांच मुकदमें दर्ज है। पुलिस ने अभियुक्तों के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही करते हुए उन्हें जेल भेज दिया है। आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली टीम में मटौंध थानाध्यक्ष अरविंद सिंह गौर, उपनिरीक्षक एसओजी मयंक चंदेल, उपनिरीक्षक मटौंध राहुल सिंह, आरक्षी एसओजी महेश सिंह, अश्वनी प्रताप सिंह, भानु प्रकाश, सत्यम गुर्जर, पुष्पेंद्र यादव, कृष्णकुमार यादव, सादवेंद्र, शैलेंद्र कुमार, धीरेंद्र आर्य, सुखपाल, रमाकांत यादव शामिल रहे। इस मौके पर सीओ सिटी राकेश कुमार सिंह, सदर सत्यप्रकाश शर्मा, क्षेत्राधिकारी कार्यालय अंबुजा त्रिवेदी भी मौजूद रहीं। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages