अबकी बार 300 से ज्यादा सीटें जीतेंगे : डिप्टी सीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, December 22, 2021

अबकी बार 300 से ज्यादा सीटें जीतेंगे : डिप्टी सीएम

जनसभा में सपा, बसपा और कांग्रेस पर बरसे, बोले लुटेरों की पार्टियां हैं 

जीआईसी ग्राउंड में आयोजित जनसभा को उप मुख्यमंत्री ने किया संबोधित 

अबकी बार फिर 300 सीटें जीतने जा रहे, बुंदेलख्ांड में खिलेगा कमल 

बांदा, के एस दुबे । उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने जीआईसी ग्राउण्ड में जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्षी दलों पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस लुटेरों की पार्टियां हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रधानमंत्री कहा करते थे कि वह 100 रुपया भेजते हैं तो 15 रुपया पहुंचता है। 85 रुपया आखिर कौन खा जाता था, जाहिर सी बात है लुटेरे लूट ले जाते थे। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे सिस्टम को बदलकर रख दिया और अब सीधे बैंक खातों में पूरा का पूरा रुपया भेजा जाता है। किसान सम्मान निधि आदि में भेजी जाने वाली धनराशि का हवाला भी डिप्टी सीएम ने दिया। कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा 300 सीटें जीतने जा रही है। पूरे बुंदेलखंड में कमल खिलेगा। कहा कि बुंदेलखंड हमारा था, हमारा है और हमारा ही रहेगा। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंडवासियों के दिलों में मोदी का राज है और मोदी के दिल में बुंदेलखंडी बसते हैं। बुंदेलखंड के विकास के लिए मोदी और योगी सरकार ने खुले दिल से काम किया है, इसलिए चहुंओर विकास की झड़ी लगी हुई है। उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड पहले भी हमारा था और अब भी हमारा ही रहेगा। 

जीआईसी ग्राउण्ड में जनसभा को संबोधित करते डिप्टी सीएम केशव मौर्य

डिप्टी सीएम श्री मौर्य ने कहा कि वर्ष 2014 के लोककसभा चुनाव में जनता ने कमल खिलाया, 2017 के विस चुनाव में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने लामबंद होकर कोशिश की, लेकिन असफल रहे और फिर कमल खिला। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में जनता ने एक बार फिर से कमल खिलाया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बने। कहा कि बुंदेलखंडवासियों के दिलों में मोदी हैं और मोदी के दिल में बुंदेलखंडवासी हैं। केशव मौर्य ने कहा कि वर्ष 2017 की तरह 2022 में भी बुंदेलखंड की सभी सीटों पर कमल खिलेगा। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि आगामी विस चुनाव में 300 से अधिक सीटें जीतने जा रहे हैं। विरोधियों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वर्ष 2014, 2017 का चुनाव उन लोगों ने देखा है, अब 2022 में भी वह देख लें। डिप्टी सीएम ने ने नारा देते हुए कहा कि 100 में से 60 हमारा, बाकी में बंटवारा, उसमें भी हमारा। डिप्टी सीएम श्री मौर्य ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस लुटेरों की पार्टी है। इन पार्टियों ने विकास नहीं, सिर्फ लूटने का काम किया है। कहा कि कांग्रेस के प्रधानमंत्री राजीव गांधी कहते थे कि 100 रुपए भेजते हैं तो 15 रुपए पहुंचता है, तो आखिर 85 रुपया कहां जाता था। डिप्टी सीएम ने कहा कि यह 85 रुपया लुटेरे लूट ले जाते थे। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सिस्टम को बदल दिया। अब पूरा का पूरा पैसा पहुंचता है। इसी को कहते हैं सोंच ईमानदार तो काम दमदार। डिप्टी सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी ने कभी भी किसान और मजदूरों के हितों से समझौता नहीं किया है। कहा कि इन दिनों लाल टोपी बहुत दिखती है। लेकिन अपराधियों और माफियाओं को योगी सरकार बख्सने वाली नहीं है, जो जैसा करेगा, उसे उसे तरी हाक दंड दिया जाएगा। अपने संबोधन को खत्म करने के पूर्व डिप्टी सीएम मौर्य ने कहा कि चुनाव करीब आते-आते तमाम लोग बरगलाने आएंगे। जनता से कहा कि उन्हें बहकना नहीं है और कमल खिलाना है। कहा कि बाकी दल मुंगेरीलाल के हसीन सपने देख रहे हैं, उन्हें देखने दो। कहा कि 2022 में जाइये सब कुछ भूल, खिलाइये कमल का फूल। जनसभा को केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, नरैनी विधायक राजकरन कबीर, सांसद आरके सिंह पटेल, सदर विधायक प्रकाश द्विवेदी आदि ने संबोधित किया। इस दौरान जनविश्वास यात्रा प्रभारी बाबूराम निषाद, कमलावती सिंह, रामकिशोर साहू, बबेरू विधायक चंद्रपाल कुशवाहा, जिला पंचायत अध्यक्ष सुनील पटेल, भाजपा जिलाध्यक्ष रामकेश निषाद, किसान मोर्चा क्षेत्रीय अध्यक्ष बालमुकुंद शुक्ला, संजय सिंह आदि मंचासीन रहे। जनसभा का संचालन धर्मेन्द्र त्रिपाठी ने किया। 

मौजूद भीड़

2022 भूल जाएं, 2027 में भी नहीं आएगा अखिलेश का नंबर 

बांदा। जनसभा को संबोधित करते हुए डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने कहा कि सपा मुखिया अखिलेश यादव कहते हैं कि केशव पिछड़े वर्ग से हैं। मौर्या ने कहा कि सपा मुखिया तो पिछड़ों के दुश्मन हैं। उन्होंने पिछड़ों को डिप्टी सीएम नहीं बनाया। कहा कि सपा मुखिया मुख्यमंत्री बनने का सपना देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुलायम सल्तनत के अखिलेश यादव आखिरी सुल्तान हैं। 2022 चुनाव को वो भूल जाएं, 2017 में भी अखिलेश यादव का नंबर आने वाला नहीं है, चाहे वह जितने गठबंधन कर लें। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages