बहनों ने लगाया भाइयों को मंगल टीका - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, November 6, 2021

बहनों ने लगाया भाइयों को मंगल टीका

भाईदूज पर बहनों ने भाई को किया तिलक 

बांदा, के एस दुबे । भाई-बहन के प्रेम का पर्व भाई दूज शनिवार को मनाया गया। भाईयों के माथे पर बहनों ने मंगल टीका लगाकर लंबी उम्र की कामना की। भाईदूज का पर्व को बहन और भाईयों के लिए खास रहा। बहनों ने भाई के मस्तक पर अक्षत तिलक लगाकर मंगलकामना की। भाइयों ने आजीवन बहन की रक्षा का वचन दिया। रक्षाबंधन की तरह भाईदूज के त्योहार का इंतजार बहनों को ही नहीं, बल्कि भाइयों को भी रहता है। बहनों ने सुबह से ही पर्व की तैयारियां शुरू कर दी थी। घरों में छोटे बच्चों ने भी यह त्योहार मनाया। युवतियों और महिलाओं ने भाई के माथे पर मंगल टीका लगाकर अपनी रक्षा का वचन लिया। इस पर्व को यम द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है। धार्मिक मान्यता है कि इस दिन यमराज अपनी बहन यमुना के घर गए। यमुना ने उनका आदर-सत्कार

अपनी दीदियों से तिलक करवाता मासूम कान्हा

कर पूजा की और भेजन कराया। इससे प्रसन्न हुए यमराज से यमुना ने वरदान मांगा कि इस दिन जो भी भाई अपनी बहन के घर जाकर भेजन करेगा, वह दीघार्यु हो और बहन के घर हमेशा अकूत संपत्ति का वाश हो। तब से यह पर्व भाई-बहन के प्रगाढ़ प्रेम के नाम पर मनाया जाता है। इस दिन यमुना नदी में स्नान और पूजा-अर्चना करने का भी विधान है। यम द्वितीया पर चित्रगुप्त की भी पूजा की जाती है। मान्यता है कि चित्रगुप्त यमलोक में धर्म-अधर्म, पुण्य-पाप का लेखा-जोखा करते हैं। उन्हें यमराज का वरदान था कि यम द्वितीया के दिन जो व्यक्ति चित्रगुप्त की पूजा करेगा, उसे स्वर्गलोक की प्राप्ति होगी। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages