मांगे पूरी न होने पर प्रधानों ने किया कार्य बहिष्कार - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Tuesday, November 16, 2021

मांगे पूरी न होने पर प्रधानों ने किया कार्य बहिष्कार

सीएम को भेजा ज्ञापन, 25 नवंबर से करेंगे काम बंद 

फतेहपुर, शमशाद खान । अखिल भारतीय प्रधान संगठन की लखनऊ में 28 अक्टूबर को आयोजित हुई महारैली में दी गई पन्द्रह दिनों की समय सीमा पूरी होने के बावजूद मांगे पूरी न होने पर मंगलवार को हस्वा ब्लाक क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाली ग्राम पंचायतों के प्रधानों ने ने कार्य बहिष्कार करते हुए संबंधित बीडीओ के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर मांगों पर प्रभावी कार्रवाई किए जाने की आवाज उठाई। प्रधानों का कहना रहा कि यदि मांगे पूरी न हुई तो 25 नवंबर से प्रदेश में काम बंद करते हुए असहयोग आंदोलन चलाया जाएगा। जिसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी। 

बीडीओ को ज्ञापन सौंपते प्रधान।

अखिल भारतीय प्रधान संगठन के जिलाध्यक्ष नदीम उद्दीन पप्पू व जिला सचिव एवं बुधरामऊ प्रधान नितिन शुक्ला की संयुक्त अगुवई में हस्वा ब्लाक पहुंचे प्रधानों ने बीडीओ के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा। जिसमें प्रधानों ने सत्ता विकेंद्रीकरण की आदर्श व्यवस्था लागू किए जाने, सहायक सचिव कम डाटा एंट्री ऑपरेटर व शौचालय केयरटेकर के मानदेय की व्यवस्था राज्य सरकार द्वारा किए जाने, माह में एक बार जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की अध्यक्षता में पंचायत दिवस मनाया जाने, पंचायत से जुड़े राजस्व कर्मी, पंचायत कर्मी, आंगनवाड़ी, राशन कोटेदार व सरकारी स्कूल के अध्यापकों की उपस्थिति कार्य प्रमाणन, निलंबन की संस्तुति सहित सभी मामलों में पंचायतों को पूर्ण अधिकार दिए जाने, प्रधानों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों एवं जिला पंचायत सदस्यों की सुरक्षा हेतु शस्त्र लाइसेंस जारी करने में प्राथमिकता दिए जाने, प्रधानों व सभी त्रिस्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों के विरुद्ध अभियोग पंजीकरण से पूर्व उपनिदेशक पंचायतीराज से अनुमति का प्राविधान किए जाने, जिला योजना समिति में प्रधानों को प्रतिनिधित्व दिए जाने, दस लाख रुपए तक के कार्य एस्टीमेट पास कराने में ग्राम सभा को पूर्ण अधिकार दिए जाने, राज्य वित्त आयोग व प्रशासनिक सुधार आयोग की समस्त प्रमुख सिफारिशों को उत्तर प्रदेश में लागू किए जाने, सफाई कर्मियों के कार्य क्षेत्र का निर्धारण जनसंख्या के बराबर-बराबर हिस्से में किए जाने सहित अन्य मांगे गिनाते हुए सभी मांगों पर प्रभावी कार्रवाई किए जाने की मांग की। इस मौके पर मिचकी प्रधान नीरज, शाहीपुर प्रधान धीरेन्द्र सिंह, रसूलाबाद प्रधान प्रदीप सिंह, सनगांव प्रधान बलवीर सिंह यादव, करियामऊ प्रधान राज किशोर, सुनीता, सरकी प्रधान, श्रवण यादव, हसवा प्रधान मो. राशिद, भमैचा प्रधान अंकेश, मलांव प्रधान दुर्गेश कुमार भी शामिल रहे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages