आखिरकार गिरफ्तार किए गए अमन हत्याकांड के आठ आरोपी - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Thursday, November 25, 2021

आखिरकार गिरफ्तार किए गए अमन हत्याकांड के आठ आरोपी

मुख्य आरोपी समेत सभी लोग पुलिस के शिकंजे में पहुंचे 

गैर इरादतन हत्या की धारा को लेकर अमन के परिजन खफा 

सीबीआई जांच का आश्वासन मिलने पर खत्म हुआ अनशन 

बांदा, के एस दुबे । भाजपा नेता संजय त्रिपाठी और उनकी पत्नी मधु त्रिपाठी के साथ समाजसेवियों और राजनीतिक दलों के लोगों का संघर्ष रंग लाया। जनता जनार्दन का समर्थन मिलने के कारण आखिरकार अमन हत्याकांड के मुख्य आरोपी समेत सभी नाबालिग आरोपियों को पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस लाइन में प्रेस वार्ता करते हुए सीओ सदर हमीरपुर विवेक यादव ने सभी हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की बात कही। इसके बाद सभी आरोपियों का जिला अस्पताल में मेडिकल परीक्षण कराया गया। मालुम हो कि सभी हत्यारोपी नाबालिग हैं। इधर, गैर इरादतन हत्या की धारा लगाए जाने से अमन के माता-पिता खफा नजर आए और आईजी के.

जिला अस्पताल मे मेडिकल के बाद पुलिस जीप की ओर जाते अमन हत्याकांड के आरोपी

सत्यनारायणा से मुलाकात कर विरोध किया। इसके बाद अनशन स्थल लौट आए। शाम को सांसद, सदर विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष और आईजी अनशन स्थल पहुंचे। सीबीआई जांच कराए जाने का आश्वासन दिया। 

बंगालीपुरा मुहल्ला निवासी भाजपा नेता संजय त्रिपाठी का इकलौता पुत्र अमन त्रिपाठी 11 अक्टूबर को अपने घर से निकला था और फिर घर वापस नहीं लौटा था। 13 अक्टूबर को कनवारा के ब्रम्हाडेरा इलाके में केन नदी के पानी से अमन का शव बरामद किया गया। शव बरामद होने के बाद अमन की स्कूटी, मोबाइल और उसकी शर्ट यहां-वहां बरामद की गई। पुलिस ने मामले में जमकर लीपापोती की। पोस्टमार्टम रिपोर्ट तक में खेल किया गया। लेकिन अमन के माता-पिता ने संघर्ष की राह नहीं छोड़ी। अपने इकलौते बेटे के हत्यारोपियों को गिरफ्तार करने और मामले की सीबीआई जांच कराए जाने को लेकर अधिकारियों की ड्योढ़ी तक आते-जाते रहे। एसआईटी का गठन आईजी के निर्देश पर किया गया, लेकिन अमन के माता-पिता ने एसआईटी अधिकारियों पर भरोसा नहीं जताया, इस पर आईजी ने हमीरपुर क्राइम ब्रांच को जांच सौंप दी। हमीरपुर क्राइम ब्रांच ने मामले की जांच की। इसके बाद भी मामला ठंडे बस्ते में चला गया। डेढ़ से अधिक का समय गुजर जाने के बावजूद जब अमन के हत्यारोपियों को नहीं पकड़ा गया तो अमन के पिता भाजपा नेता संजय त्रिपाठी और उनकी पत्नी मधु त्रिपाठी ने दो दिन पूर्व अशोक स्तंभ तले अनशन शुरू कर दिया। अनशन शुरू होने के साथ ही हमीरपुर क्राइम ब्रांच समेत पुलिस महकमे में हलचल बढ़ गई। आनन-फानन में हमीरपुर क्राइम ब्रांच ने अमन की हत्या के आरोप में मुख्य आरोपी समेत आठ लोगों को धर दबोचा। गुरुवार को हमीरपुर सीओ सदर विवेक यादव ने पुलिस लाइन सभागार में मीडिया से वार्ता की। इस दौरान उन्होंने अमन हत्याकांड के आरोपियों के पकड़े जाने का खुलासा किया। पुलिस ने हत्या के मामले को गैर इरादतन हत्या में परिवर्तित करते हुए धारा 304, 201, 109 व 34 आईपीसी के तहत रपट दर्ज की है। सभी आरोपियों को पुलिस ने सलाखों के पीछे भेज दिया है। इधर, अमन हत्याकांड में गैर इरादतन हत्या के आरोप में सभी आरोपियों के पकड़े जाने के बाद अमन के पिता भाजपा नेता संजय त्रिपाठी आईजी केत्र सत्यनारायणा से मिले और गैर इरादतन हतया की धारा लगाए जाने पर नाराजगी जाहिर की और फिर अनशन स्थल लौट आए। गुरुवार की शाम को सांसद आरके सिंह पटेल, सदर विधायक प्रकाश द्विवेदी, जिला पंचायत अध्यक्ष सुनील पटेल और आईजी के सत्यनारायणा अनशन स्थल पहुंचे। अनशन पर बैठे संजय त्रिपाठी और उनकी पत्नी मधु त्रिपाठी से बातचीत की। आश्वासन दिया कि अमन हत्याकांड की सीबीआई जांच कराई जाएगी। खबर लिखे जाने तक अनशन जारी रहा। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages