किसानों व विपक्ष के अटूट संघर्ष का मिला परिणाम : अखिलेश - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, November 20, 2021

किसानों व विपक्ष के अटूट संघर्ष का मिला परिणाम : अखिलेश

कृषि कानूनों की वापसी पर कांग्रेस हर ब्लाक में निकालेगी विजय रैली 

फतेहपुर, शमशाद खान । किसानों के विरोध प्रदर्शनों के साथ-साथ उनके बलिदानों व विपक्ष के अटूट संघर्ष की बदौलत ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नए कृषि कानूनों को वापस ले लिया। इस ऐतिहासिक जीत पर कांग्रेस पार्टी जिले की सभी विधानसभा क्षेत्रों के सभी ब्लाकों में विजय रैली का आयोजन करेगी। जिसमें कैंडिल मार्च का भी आयोजन किया जाएगा। 

पत्रकारों से वार्ता करते कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश पांडेय।

यह बात शनिवार को पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से रूबरू होते हुए कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश पांडेय ने कही। उन्होने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार जबरन किसानों पर तीन नए कृषि कानून थोप रही थी। इन कानूनों के विरोध में देश के किसानों ने एक लंबी लड़ाई लड़ी और बलिदान भी दिया। इतना ही नहीं कांग्रेस के नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में एकजुट विपक्ष ने भी इन कृषि कानूनों का विरोध दर्ज कराया। लंबे संघर्ष का आखिरकार परिणाम सामने आया। मोदी सरकार को किसानों के आगे घुटने टेकने पड़े और तीनों नए कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान करना पड़ा। उन्होने कहा कि यह सामूहिक जीत विनम्रता पूर्वक देश के सभी अन्नदाताओं को समर्पित है। इसे किसान विजय दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। उन्होने कहा कि इस खुशी में सभी छह विधानसभा क्षेत्रों के सभी ब्लाकों में किसान विजय रैली का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें शहीद सात सौ किसानों के प्रति श्रद्धांजलि व्यक्त करने के लिए कैंडिल मार्च भी निकाला जाएगा। उन्होने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में ऐसी निकम्मी सरकार को प्रदेश का किसान व जनता मुंहतोड़ जवाब देने का काम करेगी। इस मौके पर राजीव लोचन निषाद, वीरेंद्र सिंह चौहान, विकास मिश्र, बब्लू कालिया, अजय मौर्य, माधुरी रावत, वीरेंद्र गुप्ता, एमएल श्रीवास, इकबाल नफीस, बृजेश मिश्र आदि मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages