आयुष के उपायो, परहेज से मधुमेह नियंत्रण संभव - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, November 15, 2021

आयुष के उपायो, परहेज से मधुमेह नियंत्रण संभव

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र इटखरी में विश्व डायबिटीज डे के उपलक्ष्य में कार्यक्रम संपन्न हुआ। जिसकी अध्यक्षता मुख्य अतिथि सीएचसी शिवरामपुर के अधीक्षक डा. लखन स्वरूप गर्ग ने की। उन्होंने बताया की विश्व में भारत डायबिटीज की वैश्विक राजधानी है जो तेजी से फैल रहा है। आंकड़े के अनुसार हर पांचवां व्यक्ति डायबिटिक होगा यदि 2023 तक इसमें सुधार नहीं किया गया। आयुष चिकित्सक डा. राजकुमार तिवारी ने बताया की डायबिटीज अत्यधिक अनियंत्रित खानपान, तनाव, शारीरिक परिश्रम नही करने से होता है। जिससे शरीर में जमा ग्लूकोस ग्लाइकोजन में कन्वर्ट नहीं हो पाता है और इंसुलिन अपर्याप्त मात्रा में होने के कारण वह ग्लूकोज के

योगाभ्यास कराते चिकित्सक।

मेटाबॉलिज्म को अच्छे से नहीं पाता। जिससे मधुमेह रोग होता है। यह एक मेटाबॉलिक डिसऑर्डर है। इसे दवाओं के दम पर कंट्रोल किया जा सकता है न कि पूर्णतया सही। उन्होने बताया की आयुष के उपायों व परहेज के द्वारा डायबिटीज से पूरी तरह मुक्ति मिल सकती है। फार्मासिस्ट प्रभारी बैजनाथ सिंह ने बताया की डायबिटीज को कंट्रोल करने में योग का बहुत बड़ा महत्व है। आरोग्य भारती सप्ताहिक योग शिविर लगाकर डायबिटीज के लोगों को चमत्कारिक फायदे दिए हैं। इस दौरान अर्धमतयेंद्रासन, शशांकासन, सूर्य नमस्कार, धनुरासन आदि की क्रियाओं को कराया। कार्यक्रम में वैशाली पांडेय, कौशल्या गुप्ता, धर्मावती, मानस मंजरी, गायत्री श्रीवास्तव, सुनील यादव, संगीता, महेंद्र, अजय आदि का योगदान सराहनीय रहा।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages