बृहस्पति ग्रह का राशि परिवर्तन 20 नवंबर - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Friday, November 19, 2021

बृहस्पति ग्रह का राशि परिवर्तन 20 नवंबर

सौर मण्डल के सबसे बड़े बृहस्पति ग्रह जो देवताओं के गुरू भी है देवगुरु बृहस्पति, अपनी नीच राशि मकर से निकलकर, 20 नवंबर 2021 को रात्रि 11:19  पर समराशि कुंभ में प्रवेश करेंगे, और यहां 13 अप्रैल 2022 तक रहेंगे।  गुरु उदारता से सही मार्ग पर  चलने का रास्ता दिखाता है  ज्योतिष में बृहस्पति धर्म, ज्ञान, शिक्षा, विवाह, संतान, सुख-सम्पत्ति का कारक ग्रह है। ज्योतिष में बृहस्पति ग्रह की तीन विशेष दृष्टियां पांचवी, सातवी, नवीं मानी गई है ये जहां दृष्टि डालते है शुभ करते है। गोचर के गुरू जन्म राशि से 2, 5, 9, 10, 11वें भाव में शुभ होते है। बृहस्पति कर्क में उच्च के धनु और मीन उनकी स्वराशि है। अशुभ बृहस्पति की शन्ति के लिये गुरू ग्रह के मंत्रो का जप , गाय, मन्दिर और गुरू की सेवा और गुरू ग्रह की वस्तुओं का दान करना चाहिये। भगवान शिव, देवी दुर्गा और भगवान कृष्ण उपासना से भी ग्रहों के बुरे प्रभाव नहीं मिलते है।


विभिन्न राशि वालों के लिये गोचर के गुरू का राशि प्रभाव निम्न होगा-

  1. मेष राशि: आय में वृद्धि होगी , शादी का योग बनेगा, नए मित्र बनेंगे
  2. वृष राशि :सुख-साधनों में बढ़ोतरी होगी, करियर में कई तरह के लाभ मिलेंगे, राजकार्यों से लाभ मिलेगा।
  3. मिथुन  राशि: भाग्य साथ देगा, विदेश जाने का अवसर मिलेगा तथा उच्च शिक्षा का भी अवसर प्राप्त होगा।
  4. कर्क राशि : मानसिक चिंता बढ़ाएगा तथा  परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।
  5. सिंह राशि :शुभ संचार मिलेंगे मन प्रसन्न  रहेगा कार्याे के अवरोध दूर होंगे
  6. कन्या राशि:  व्यापार तथा व्यवसाय में बाधा है, स्वस्थ का ध्यान रखे
  7. तुला राशि: संतान को प्रतियोगी परीक्षा में सफलता  होगी तथा  मांगलिक कार्य / विवाह का योग बनेगा।
  8. वृश्चिक राशि : करियर हेतु शुभ है,स्वस्थ का ध्यान रखे
  9. धनु राशि :नौकरी में स्थानांतरण ,प्रॉपर्टी में  विवाद संभव , निवेश सोच समझ कर करे  
  10. मकर राशि:  धन संपत्ति में वृद्धि होगी, आय बढ़ेगी तथा परिवार को फायदा होगा।  
  11. कुंभ राशि:  संतान को भी सफलता मिलेगी, भाग्य साथ देगा तथा आय भी बढ़ेगी।
  12. मीन राशि : व्यय वृद्धि, स्वस्थ का ध्यान रखे, स्थानांतरण संभव, तीर्थ यात्रा हो सकती है
ज्योतिषाचार्य-एस.एस.नागपाल, स्वास्तिक ज्योतिष केन्द्र, अलीगंज, लखनऊ।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages