पेंशन व्यवस्था में सुधार की जरूरत है - विजय कुमार बंधु - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, October 23, 2021

पेंशन व्यवस्था में सुधार की जरूरत है - विजय कुमार बंधु

 (देवेश प्रताप सिंह राठौर)........ ........................       

बुंदेलखंड केअटेवा में प्रदेश अध्यक्ष  विजय कुमार बंधु  के आवाहन पर आज 22 अक्टूबर को  प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर एन पी एस निजीकरण भारत छोड़ो पद यात्रा निकाली गई।आगामी 21 नवंबर 2021को एन पी एस निजीकरण के खिलाफ लखनऊ में अटेवा के ओर से पेंशन शंखनाद रैली का आयोजन होगा।उसी क्रम में आज झाँसी अटेवा परिवार के पेंशनविहीन साथियों ने  एन पी एस और निजीकरण के विरोध में एन पी एस निजीकरण भारत छोड़ो पद यात्रा  निकालकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ  को एक ज्ञापन उप जिलाधिकारी


महोदया श्री मती शान्या छावड़ा जी के माध्यम से दिया।ज्ञापन में  मुख्यमंत्री  से मांग की गई कि 1 अप्रैल 2005 के बाद नियुक्त शिक्षक, कर्मचारियों की दी जाने वाली नई पेंशन व्यवस्था (NPS) को समाप्त कर पुरानी पेंशन व्यवस्था (OPS) बहाल करने की कृपा करें  क्योंकि नई पेंशन योजना शिक्षक, कर्मचारियों के साथ धोखा है।पुरानी पेंशन योजना ही शिक्षक, कर्मचारियों के हित मे है।NPS तथा निजीकरण देश हित में नही है।कृपया इसे समाप्त करे।कार्यक्रम में जिला संयोजक गोपाल सिंह यादव जिला महामंत्री ब्रजेन्द्र प्रताप, सतीश नायक, मंडल अध्यक्ष डॉ अरविंद यादव, मंडलीय मंत्री शैलेश रॉय, पुष्पेंद्र यादव, अभिनाश मिश्र,आदर्श इण्टर कॉलेज के प्रधानचार्य विनोद कुमार अहिरवार, दयाशंकर यादव, उमाशंकर पटेल, ओम प्रकाश दांगी, राजकुमार, शिवदत्त मिश्र, विनय मिश्र, सुनील कुमार, हरिकेश बहादुर, राकेश गुप्त, मानवेन्द्र सिंह, हरिओम, नरेश पाल, रविकांत, महेश कुशवाहा, नितिनमोहन सिंह, मयंकमोहन, श्रीश सविता,केसीपी इण्टर कॉलेज के प्रधानाचार्य संजय राठौर, जवाहर  अनुरागी,शैलेन्द्र खरे,सोमनाथ सिंह,रामबहादुर, सुशील गुप्त,श्यामकरण कुशवाहा,दिनेश यादव, छोटेलाल, अमीनुद्दीन,अरविंद वर्मा,राजेन्द्र साहू, जगदीश सविता, गोपाल कृष्ण गुप्ता, देवेंद्र पटेरिया, अजय पटेल, अखयराम, देवेश पटेल, अनंतराम तिवारी, इमरान सिद्दिकी, भुवनेंद्र वर्मा, सीताशरण मिश्रा, सुनील सेन, जयप्रकाश पाल, पंकज भारती, अरुण कुमार कुशवाहा, सुरेश पटेल,गजराज सिंह यादव, अनिल कुमार आदि पेंशनविहीन साथी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages