बिना शासनादेश के ढहा दिया प्राथमिक विद्यालय भवन - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Saturday, October 30, 2021

बिना शासनादेश के ढहा दिया प्राथमिक विद्यालय भवन

मौके पर पहुंचे खंड शिक्षा अधिकारी ने रुकवाया काम

प्रधानाध्यापक को नोटिस देकर किया जवाब तलब 

नरैनी, के एस दुबे । बगैर किसी सरकारी आदेश के प्रधानाध्यापक ने ग्राम प्रधान के साथ मिलकर गांव का प्राथमिक स्कूल गिरा दिया। दोनो निर्माण सामग्री को ठिकाने लगाने में जुटे थे, तभी ग्रामीणों की सूचना पर खण्ड शिक्षाधिकारी मौके पर पहुंच गए और स्कूल गिराने का काम बंद करा दिया। बेसिक शिक्षा अधिकारी ने प्रधानाध्यापक को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

प्रधानाध्यापक और ग्राम प्रधान के द्वारा गिरवाया गया विद्यालय भवन

बीआरसी क्षेत्र के संग्रामपुर गांव में करीब 15 साल पहले बने प्राथमिक विद्यालय को जूनियर विद्यालय के प्रधानाचार्य लवकेश पटेल ने ग्राम प्रधान बच्चूलाल के साथ मिलकर गिरा दिया। बेवजह अच्छी खासी इमारत को गिराते देख ग्रामीणों को शक हुआ तो उन्होंने फोन कर जिलाधिकारी और बेसिक शिक्षा अधिकारी को मामले की सूचना दी। दूसरे दिन अधिकारियों के आदेश पर खण्ड शिक्षाधिकारी राजेन्द्र कुशवाहा मौके पर पहुंचे और तत्काल काम बंद करा दिया। खण्ड शिक्षाधिकारी ने बताया कि उक्त विद्यालय में कक्षाएं नही लगाई जाती थीं, लेकिन यह स्कूल अभी कंडम की श्रेणी में नही था। बताया कि नियमो से हटकर प्रधानाचार्य ने इसे गिराने के लिए ग्राम प्रधान को प्रार्थना पत्र दिया था, ग्राम प्रधान बच्चूलाल ने भी नियम कानून को दरकिनार कर स्कूल गिराने का प्रस्ताव ग्राम सभा में पास करा दिया और दूसरे ही दिन मजदूर लगा कर स्कूल की छत और दीवारें गिरा दीं। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने प्रधानाचार्य को नोटिस भेज कर स्पष्टीकरण मांगा है। गांव के श्रवण कुमार वर्मा ने बताया कि गांव में चर्चा है कि प्रधानाचार्य ने ग्राम प्रधान को डेढ़ लाख रुपए में स्कूल की निर्माण सामग्री बेच दी थी, इसलिए दोनो ने मिलकर स्कूल ढहा दिया।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages