मेला इंतजाम में नहीं होना चाहिए कमी : डीएम - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Monday, October 25, 2021

मेला इंतजाम में नहीं होना चाहिए कमी : डीएम

कलेक्ट्रेट सभागार में यूपी-एमपी के अफसरों के साथ हुई बैठक

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल, पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल, अपर जिलाधिकारी सतना मप्र राजेश शाही, अपर पुलिस अधीक्षक सतना एसके जैन की उपस्थिति में धनतेरस, दीपावली मेला, भैया दूज आदि पर्व को सकुशल संपन्न कराए जाने से संबंधित  कलेक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक की।

जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल ने कहा कि किसी भी दशा में कोविड-19 के प्रोटोकॉल को फॉलो करते हुए मेला को सकुशल संपन्न कराया जाए। मास्क लगाना अनिवार्य है। सैनिटाइजेशन कराएं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो। उन्होंने कहा कि दोनों तरफ के अधिकारी यह सुनिश्चित कर लें कि सभी विभाग आपस में तालमेल

बैठक में निर्देश देते डीएम, एसपी।

अवश्य बनाकर मेला को सकुशल संपन्न कराएं। नाव व पूजन सामग्री की दर अवश्य अंकित करे। हनुमान धारा की तरफ पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित रहे। कहा कि चित्रकूट उत्तर प्रदेश में मेला क्षेत्र को 9 जोन, 18 सेक्टर में विभाजित किया गया है। सभी जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि संबंधित पुलिस अधिकारियों के साथ अभी से ही क्षेत्र का भ्रमण कर व्यवस्थाएं समय से पूर्ण करा ले। ताकि मेला के दौरान कोई समस्या न हो। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को देखते हुए एंबुलेंस आदि व्यवस्थाएं पूर्व की भांति सुनिश्चित कर ले। सुबह-शाम पूरे मेला क्षेत्र में सैनिटाइज अवश्य कराएं। जिला पंचायत राज अधिकारी तथा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी को निर्देश दिए कि सफाई निरंतर कराते रहें। परिक्रमा को दोनों तरफ के अधिकारी तीन बार सफाई अवश्य कराएं। सफाई के लिए मोबाइल टीम भी गठित की जाए। किसी भी दशा में अन्ना जानवर न घूमें। खोया पाया केंद्र, सीसीटीवी कैमरे आदि की भी व्यवस्था सुनिश्चित करा ली जाए। पेयजल व्यवस्था पर पेयजल से संबंधित अधिकारियों से कहा कि मेला क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था निरंतर बनी रहे। पानी की कोई समस्या नहीं होना चाहिए। कहा कि रामघाट पर मां मंदाकिनी गंगा पर मोटर बोट दोनों तरफ पर रहे। ेउप जिलाधिकारी कर्वी व मझगवां सतना सुनिश्चित करें की जो नाव चलाई जाए उन पर नंबर अवश्य डाला जाए। घाट पर बैरिकेटिग अवश्य कराएं। उन्होंने कहा कि दीपदान मेला की प्राचीन परंपरा है। इसमें कोरोना को देखते हुए सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराएं। अपर जिलाधिकारी सतना राजेश शाही ने कहा कि दीपावली मेला के दौरान भीड़ को देखते हुए मध्य प्रदेश द्वारा सभी व्यवस्थाएं की गई हैं। उन्होंने कहा कि दोनों तरफ के अधिकारी सभी व्यवस्थाओं में एक दूसरे का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि दोनों तरफ के परिक्रमा परिक्षेत्र में नारियल, अगरबत्ती पर पूर्णतया रोक लगाया जाए। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की तरफ पांच अस्थाई पार्किंग व्यवस्था बनाई गई है। पीली कोठी पर भी वाहन नहीं आएंगे। परिक्रमा मार्ग सहित पूरे क्षेत्र को जोन एवं सेक्टर में विभाजित कर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर ली गई है। कहां की कोविड-19 को देखते हुए सतर्क रहकर मेला को सकुशल संपन्न कराएं। पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल ने कहा कि टीम को सक्रिय रहकर मेला को सकुशल संपन्न कराना है। आपस में कम्युनिकेशन गैप नहीं होना चाहिए। दोनों तरफ के कंट्रोल रूम के नंबरों का आदान प्रदान अवश्य कर लिया जाए। रामघाट व परिक्रमा क्षेत्र में पर्याप्त पुलिस व्यवस्था रहेगी। दुकानों पर खाद्य पदार्थों को लेकर छापेमारी की कार्यवाही अभी से सुनिश्चित की जाए। सिलेंडर का प्रयोग दुकानों पर न करने दिया जाए। पूरे मेला क्षेत्र का अतिक्रमण हटवाएं। रामघाट व परिक्रमा मार्ग पर जो चेंजिंग रूम व खोया पाया केंद्र बनाया जाए उसमें साइन बोर्ड अवश्य रहे। बैठक में अपर जिला अधिकारी नमामि गंगे सुनंदू सुधाकरण, अपर पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र कुमार राय, उप जिलाधिकारी मझगवां सतना पीएस त्रिपाठी, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर शीतला प्रसाद पांडेय सहित चित्रकूट जनपद व सतना मध्य प्रदेश के संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages