अलविदा जुमा में कोरोना वायरस से निजात के लिए करें दुआएं: कारी फरीद - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, May 5, 2021

अलविदा जुमा में कोरोना वायरस से निजात के लिए करें दुआएं: कारी फरीद

फतेहपुर, शमशाद खान । यूं तो जुमा की अहमियत हर जमाने में हर नबी के लिए किसी न किसी घटना से जुड़ा हुआ दिन है। इसे सय्यदुल अय्याम यानी दिनों का सरदार कहा जाता है। इस दिन अल्लाह तआला इंसानों की दुआ आम दिनों से अधिक कुबूल करता है। 

यह बात काजी शहर कारी फरीद उद्दीन कादरी ने कही। उन्होने कहा कि अलविदा जुमा रमजान के महीने में आखरी जुमा को कहते हैं। यानी इसके बाद रमजान में जुमा अब इस वर्ष न होगा। रमजान के इस अन्तिम जुमा में अल्लाह

काजी शहर कारी फरीद उद्दीन।

तआला अपने बंदों पर कुछ खास मेहरबान होता है। यह खास दुआ की कुबूलियत का दिन है। ईमान वालों के लिए दुख का दिन भी है कि अब रमजान रूखसत हुआ। श्री कादरी ने कहा कि यूं तो पूरे रमजान के दिनों में हर नेक काम का 70 गुना सवाब अता होता है। मगर अ लविदा जुमा में कुछ खास ईनाम अल्लाह तआता अता करता है। लिहाजा मुस्लिम समाज के लोगों को चाहिए कि अपनी इबादतों में इस मुल्क की तरक्की और कोरोना वायरस से निजात के साथ-साथ अपने रब से इल्म, सेहत, रिज्क, नेक आमाल, उम्र, भाईचारा के लिए खुसूसी दुआओं का एहतमाम करें और लाकडाउन के संबंध में दी गयी तमाम हिदायतों पर अमल करें। ताकि इस खौफनाक बीमारी से खुद भी बचें और दूसरों को भी महफूज रखें। उन्होने कहा कि ऐसे नाजुक हालात में खास तौर पर साहिबे नेसाब (मालदार) लोगों को चाहिए कि वह गरीबों की दिल खोलकर मदद करें। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages