मतगणना: गांव की सरकार के लिए कईयों के सिर बंधा जीत का ताज - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Sunday, May 2, 2021

मतगणना: गांव की सरकार के लिए कईयों के सिर बंधा जीत का ताज

जिला पंचायत सदस्य पद की मतगणना देर रात तक रही जारी 

मतगणना स्थल के बाहर समर्थकों की रही भारी भीड़, नियमांे की उड़ी धज्जियां

थर्मल स्क्रीनिंग के जरिये एजेन्टों को दिया दिया प्रवेश 

फतेहपुर, शमशाद खान  । आखिरकार वह समय आ ही गया जिसका लोगों को बेसब्री से इंतजार था। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना जिले के सभी मतदान केन्द्रों पर शुरू हुयी। जैसे-जैसे समय बढ़ा तो गांव की सरकार के लिए कई प्रत्याशियों के सिर जीत का ताज बंध गया। सम्बन्धित आरओ ने उन्हें जीत का प्रमाण पत्र देकर विदा किया। उधर कोविड गाइडलाइन के अनुसार इस बार किसी भी तरह के जुलूस व जश्न पर प्रतिबन्ध था। इसके बावजूद कुछ प्रत्याशियों ने जुलूस निकालकर नियमों की धज्जियां उड़ाई। ग्राम पंचायत सदस्य, बीडीसी के परिणाम भी धीरे-धीरे आते रहे। जिला पंचायत सदस्यों के प्रत्याशियों की मतगणना देर रात तक जारी रही। मतगणना स्थलों के बाहर प्रत्याशियों व समर्थकों का हुजूम रहा।

मतगणना केन्द्र पर मतों की गिनती करते कार्मिक।

जिले में 18019 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला मतगणना के जरिये शुरू हुआ। सभी मतगणना केन्द्रों पर प्रत्याशी व उनके एजेन्ट को थर्मल स्क्रीनिंग के जरिये मतगणना स्थल पर प्रवेश दिया गया। आने वाली भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सभी मतगणना केन्द्रों पर पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात किया गया था। मतगणना स्थल पर बैरीकेटिंग भी की गयी थी। इसके बावजूद जिले के कई मतगणना केन्द्रों पर अव्यवस्थाएं रहीं। जिसके चलते निर्धारित समय प्रातः आठ बजे से मतगणना नहीं शुरू हो पायी। किसी केन्द्र पर प्रात आठ बजे तो किसी केन्द्र पर साढ़े आठ व नौ बजे तक मतगणना का कार्य शुरू हुआ। मतगणना के लिए सभी केन्द्र पर तीन टेबिलें लगायी गयी थी। पहली टेबल पर प्रधान व सदस्य ग्राम सभा व दूसरी टेबल में बीडीसी व तीसरी टेबल में जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशियों के मतों की गिनती शुरू करायी गयी। पहले राउंड का रूझान आने पर सम्बन्धित रिटर्निंग आफीसर द्वारा प्रत्याशियों को मिले मतों व अवैध मतों की जानकारी दी गयी। जैसे-जैसे रूझान आते गये तो किसी प्रत्याशी के चेहरे पर खुशी के भाव दिखे तो कहीं मायूसी दिखाई दी। ग्राम प्रधान समेत बीडीसी व ग्राम पंचायत सदस्यों के प्रत्याशी जैसे-जैसे जीतते गये उन्हें सम्बन्धित आरओ द्वारा जीत का प्रमाण पत्र देकर विदा किया गया। समर्थकों ने जीते हुए प्रत्याशियों को फूल-माला पहनाकर जश्न मनाया। हालांकि कोविड गाइडलाइन के तहत इस बार जुलूस व जीत का जश्न मनाने की इजाजत नहीं थी। इसके बावजूद कुछ प्रत्याशी नहीं माने और उन्होने जुलूस निकालकर कोविड गाइडनलाइन की धज्जियां उड़ाई। कई ग्राम प्रधान, बीडीसी व ग्राम पंचायत सदस्य प्रत्याशियों की मतगणना का कार्य भी देर शाम तक चलता रहा  जिसके चलते जीते हुए प्रत्याशियों का सही आंकड़ा नहीं मिल सका। उधर जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशियों की मतगणना का कार्य जारी है। देर रात फैसला आने की उम्मीद है। जिन प्रत्याशियों के मतों की गणना का कार्य जारी रहा उनके समर्थक देर रात तक मतगणना केन्द्रों के बाहर डटे रहे। 

 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages