फरसी ग्राम पंचायत से चुनाव जीतकर असलम ने रचा इतिहास - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Wednesday, May 5, 2021

फरसी ग्राम पंचायत से चुनाव जीतकर असलम ने रचा इतिहास

मिलनसार छवि की बदौलत जनता के दिलों में कर रहे राज 

जरूरतमंदों के लिए दिन-रात खुले रहते हैं घर के दरवाजे

फतेहपुर, शमशाद खान । मिलनसार छवि व जरूरतमंदों की हमेशा मदद करने का फल ईश्वर हमेशा देता है। ऐसी ही जीगती जागती मिसाल समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं ग्राम प्रधान असलम फरसी हैं। इस बार के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भी उन्होने ग्राम पंचायत फरसी से चुनाव जीतकर इतिहास रच दिया है। लगातार कई वर्षों से प्रधानी उनके घर में ही है। मिलनसार छवि की बदौलत आज भी वह जनता के दिलों में राज कर रहे हैं। जरूरतमंदों के लिए उनके घर के दरवाजे दिन-रात खुले रहते हैं। उनके चुनाव जीतने से जहां समर्थकों में खुशी का माहौल है वहीं गांव में भी लोग बेहद खुश नजर आ रहे हैं। 

फरसी प्रधान मो0 असलम।

बताते चलें कि भिटौरा विकास खण्ड की ग्राम पंचायत लालपुर सीट से वर्ष 1995 से असलम के परिवार में जो जीत का सिलसिला शुरू हुआ था वह लगातार जारी है। वर्ष 1995 में मो0 असलम ने चुनाव लड़ा था और विजयी घोषित हुए थे। उनके बाद वर्ष 2000 में दोबारा प्रधानी का ताज इनके सिर रखा गया। उनके बाद वर्ष 2005 में आरक्षण में बदलाव हुआ तो महिला सीट हो गयी। जिस पर मां साजदा खातून को मैदान में उतारा तो मतदाताओं ने उन पर भरोसा किया और जीत हासिल हुयी। वर्ष 2010 एवं 2015 में भी मां साजदा ही प्रधान हुयी। वर्ष 2017 में मां का निधन होने पर उपचुनाव में असलम ने अपने छोटे भाई की पत्नी शबाना बेगम का नामांकन कराया और उन्होने भी जीत हासिल करके इतिहास रचा। इस वर्ष के चुनाव में असलम के भाई आजम मैदान में उतरे और जीत का सेहरा उनके सिर बंध गया। उधर वर्ष 2010 में लालपुर ग्राम पंचायत का विस्तार होने पर कुछ हिस्सा फरसी ग्राम पंचायत में शामिल हुआ। जहां वर्ष 2015 के चुनाव में मो0 असलम ने भाग्य आजमाया तो वहां की जनता ने भरोसा जताते हुए प्रधान बना दिया। इस बार के चुनाव में भी मो0 असलम ने फिर से चुनाव लड़ा और 550 वोटों से विजयश्री हासिल की। मिलनसार छवि की बदौलत मो0 असलम जनता के दिलों में राज कर रहे हैं। लालपुर व फरसी ग्राम पंचायत की प्रधानी उनके घर पर होना यह साबित करता है कि वह जनता के कितने प्रिय है। गांव के जरूरतमंदों के लिए उनके घर के दरवाजे दिन-रात खुले रहते हैं। उन्होने कहा कि जनता का प्यार व स्नेह की बदौलत ही इस बार भी उन्हें जीत हासिल हुयी है। उन्होने कहा कि गांव का चहुमुखी विकास कराना उनकी पहली प्राथमिकता में शामिल है। पहले भी उन्होने ग्राम पंचायत का विकास कराया था और इस बार उससे भी अधिक विकास कराने का काम करेंगे। 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Pages